गणेशोत्सव में ऐसे सजाए जाते हैं मुंबई में पंडाल

Sep 09 2018 03:19 PM
गणेशोत्सव में ऐसे सजाए जाते हैं मुंबई में पंडाल

गणेश उत्सव की धूम अभी से चारों तरफ दिखने लगी हैं। गणेशत्सव के आगमन को लेकर बाजार से गली मोहल्ले तक में माहौल छा गया हैं। बाजारों में गणपति जी की मूर्तिया अलग-अलग रूप में दिख रहीं हैं जो भक्तजन का ध्यान आकर्षित कर रहीं हैं। वहीं गलियों में गणेश जी के पंडाल भी करीब-करीब बन गए हैं। यह त्यौहार पूरे देश में तो बड़ी धूम-धाम से मनाया जाता है लेकिन मुंबई शहर में गणेश चतुर्थी का अलग ही जश्न देखने को मिलता है। आज हम आपको गणेश जी के पंडाल बताने जा रहे हैं जो मुंबई शहर में बहुत लोकप्रिय हैं। 

उज्जैन : गणेश पंडाल को लेकर दो पक्षों में विवाद, इलाके में तनाव, पुलिस बल तैनात

1. लाल बाग 

मुंबई शहर में लाल बाग के राज के नाम से गणेश जी का सबसे लोकप्रिय मंदिर हैं। गणेश चतुर्थी के दौरान इस मंदिर को बहुत सुंदर सजाया जाता है, यहां का पंडाल देखने लायक होता है। इस 10 दिनी त्यौहार में यहां पर करीब 1.5 मिलियन भक्तजन आते हैं। यह मंदिर 83 साल पुराना हैं लेकिन, आज भी इस मंदिर की श्रद्धा भक्ति कायम हैं। गणेशोत्सव के दौरान यहां पर कई सेलेब्स बप्पा के दर्शन करने भी आते हैं। 

2. अंधरीचा राजा 

मुंबई शहर का सबसे चर्चित इलाका अंधेरी में भी गणेशत्सव बड़ी धूम—धाम से मनाते हैं। इस मंदिर की सुंदरता यहां के पंडाल से बहुत बढ़ जाती है। सनू 1966 से इस मंदिर में गणेशत्सव मनाया जा रहा है।  

गणेश चतुर्थी 2018: बप्पा को लगाए केसर श्रीखंड का भोग

3. फोर्ट विभाग सार्वजनिक  मंडल 

मुंबई शहर के फोर्ट एरिया में स्थित यह मंदिर साउथ मुंबई में बहुत लोकप्रिय हैं। इस मंदिर की खासियत यह होती है कि यहां पर पंधारपुर के गणेश जी की कॉपी की जाती हैं । पंधारपुर महाराष्ट्रीयन लोगों का सबसे महत्वपूर्ण धार्मिक स्थल हैं। 

4. तुलसीवाधिचा महाराज 

मुंबई शहर के टारदिओ रोड़ पर स्थित गणेश जी का यह मंदिर बहुत फेमस हैं। 10 दिन के उत्सव के दौरान यहां पर हजारों की तादाद में भक्तजन आते हैं। 

5. गिरगाओचा महाराजा 

गिरगाओचा महाराजा का मंदिर गिरगाओ चौपाटी बीच पर स्थि​त हैं। यह शहर के प्रमुख पंडालों में से एक है। यहां पर एक खासियत यह है कि सन 2016 से सिर्फ इको फ्रेंडली गणेश जी की मूर्ति की ही स्थापना करते हैं । 

यह भी पढ़ें

गणेशोत्सव: वृन्दावन में लगेगा वाटरप्रूफ पंडाल, जिसके नीचे होगी भागवत कथा

गणेश चतुर्थी पर ऐसे करे विधि-विधान से गणपति का पूजन

100 साल पूरे कर चुका है गणेश जी का यह मंडल

?