महान स्वतंत्रता सेनानी चंद्रशेखर आज़ाद के बारे में ये पांच बातें नहीं जानते होंगे आप

Feb 27 2019 12:00 AM
महान स्वतंत्रता सेनानी चंद्रशेखर आज़ाद के बारे में ये पांच बातें नहीं जानते होंगे आप


आजादी पाने के लिए किसी भी हद तक जाना और बेखौफ अंदाज में अपना काम पूरा करना, इन दोनों ही बातों से चंद्रशेखर आजाद आज भी हमारे दिलों अमर हैं। किन्तु शायद ये पांच बाते आप उनके बारे में नहीं जानते होंगे।

1। गांधीजी द्वारा असहयोग आंदोलन को अचानक ख़त्म कर देने की वजह से आज़ाद की विचारधारा में बदलाव आया और वे क्रान्तिकारी गतिविधियों से जुड़ कर हिन्दुस्तान रिपब्लिकन एसोसिएशन के एक्टिव मेंबर बन गए।

2। चंद्रशेखर मात्र 14 साल की उम्र में 1921 में गांधी जी के असहयोग आंदोलन से जुड़ गए थे और तभी उन्हें गिरफ्तार किया गया था और जब जज ने जब उनसे उनके पिता नाम पूछा तो उत्तर में चंद्रशेखर ने अपना नाम आजाद और पिता का नाम स्वतंत्रता और पता के बारे में पूछने पर जेल बताया। यहीं से चंद्रशेखर सीताराम तिवारी का नाम चंद्रशेखर आजाद पड़ गया। 

3। एक बार इलाहाबाद में पुलिस ने उन्हें चारों ओर घेर लिया और गोलियां दागनी शुरू कर दी। दोनों ओर से जमकर गोलीबारी हुई। चंद्रशेखर आजाद ने अपने जीवन में ये शपथ ले रखी था कि वे कभी भी जिंदा रहते पुलिस के हाथ नहीं आएंगे। इसलिए उन्होंने खुद को गोली मार कर वीरगति का रास्ता चुना।

4। जिस पार्क में आज़ाद का निधन हुआ था, आजादी के बाद इलाहाबाद के उस पार्क का नाम बदलकर चंद्रशेखर आजाद पार्क और मध्य प्रदेश के जिस ग्राम में वे रहे थे उसका नाम धिमारपुरा नाम बदलकर आजादपुरा रख दिया गया।

5। आजाद का शुरुआती जीवन आदिवासी इलाके में गुजरा इसलिए बचपन में आजाद ने भील लोगों के साथ खूब धनुष बाण चलाए। इस प्रकार उन्होंने निशानेबाजी बचपन में ही पक्को हो गई थी।

ये भी पढ़ें:-

अंडमान के एकांत कारावास में जेल की दीवारों पर कविताएं लिखते थे यह महान क्रांतिकारी

राम गोपाल वर्मा को याद आई श्रीदेवी, शेयर की ऐसी तस्वीर

सभी घरों में आग लगाने वाली सास थी ये अभिनेत्री, एक थप्पड़ खाने पर चली गई थी आंख