खुले स्तनों के साथ सरेआम क्यों घूम रही यह महिला..

वाशिंगटन- महिलाओं के स्तन शरीर का ऐसा कुदरती हिस्सा है जिसे लेकर विवाद हो जाते हैं. ताजा विवाद ‘फ्री द निपल’ अभियान के कारण चर्चा में आया है.

गौरतलब है कि अमेरिका के कई प्रान्तों सहित दुनिया में अधिकाँश जगहों पर महिलाओं का खुले ब्रेस्ट में दिखना अपराध माना जाता है. ‘गो टापलेस’ के मुताबिक तो उताह में तो ब्रेस्ट दिखाना अवैध और दंडनीय है. 2014 में विलिस नामक महिला इन्स्टाग्राम की सेंसरशिप के विरोध में टापलेस होकर पूरे न्यूयार्क शहर में घूमी थी. कई और महिलाएं भी खुले ब्रेस्ट के साथ सार्वजनिक स्थानों पर जाने की लड़ाई लड़ रही है.

लेकिन 27 वर्षीय चेल्सिया कोविंगटन का मामला दिलचस्प है.वह 3 साल से खुले ब्रेस्ट के साथ लोगों के सामने आ रही है.उनका कहना है कि जब पुरुष बिना सीना ढंके सार्वजनिक तौर पर घूमते हैं तो महिलाओं को भी यह आजादी मिलनी चाहिए.

बता दें कि वाशिंगटन और न्यूयार्क में कुछ जगहें ऐसी हैं जहाँ महिलाओं को बिना ब्रेस्ट ढंके सार्वजनिक स्थानों पर जाने में कोई पाबंदी नहीं है, वहां कोविंगटन बिना ब्रेस्ट ढंके ही जाती है.साथ ही अपने अनुभवों को ब्लॉग पर साझा भी करती है. दरअसल इसे महिला अधिकारों और लैंगिक समानता के लिए यह उनकी कोशिश का हिस्सा समझा जा सकता है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -