केंद्र सरकार से मिली किसानों को चिट्ठी, थोड़ी देर में होगी प्रेस कॉफ्रेंस

नई दिल्ली: न्यूनतम समर्थन मूल्‍य और मृतक किसानों को मुआवजा देने के साथ ही कई मांगो को लेकर अड़े किसानों को केंद्र सरकार ने एक चिट्टी लिखी है। हाल ही में इस बारे में जानकारी किसान नेता राकेश टिकैत ने दी है। जी दरअसल आज किसान मोर्चा के अध्‍यक्ष राकेश टिकैत ने एक वेबसाइट से बातचीत में कहा है, 'केंद्र सरकार से एक चिठ्ठी मिली है। हालांकि चिट्टी में क्‍या है इस बात को लेकर राकेश टिकैत ने साफ नहीं किया है। किसान मोर्चा प्रेस कॉफ्रेंस करके चिट्टी को लेकर जानकारी देगा।'

आप सभी को बता दें कि इससे पहले केंद्र सरकार ने कुछ किसान नेताओं से संपर्क साधा है। वहीं किसानों की 5 सदस्यीय कमेटी की हरियाणा सरकार के अधिकारियों से एक अनौपचारिक बातचीत की। इस दौरान हरियाणा के 48000 मुकदमों को वापस लेने पर चर्चा हुई। आपको बता दें कि किसान और सरकार के बीच यह मीटिंग गुप्त स्थान पर हुई। फिलहाल केंद्र सरकार की ओर मिली चिट्टी पर चर्चा करने के बाद संयुक्त किसान मोर्चा आगे का रुख साफ करेगा। कहा जा रहा है चिट्टी में क्‍या है इसको लेकर जल्द ही किसान संयुक्‍त मोर्चा प्रेस कॉफ्रेंस कर बताने वाला है।

बीते दिनों ही किसान नेताओं ने कहा था कि वे अब लिखित आश्वासन चाहते हैं, अनौपचारिक बातचीत पर भरोसा नहीं। उनकी इस मांग को देखते हुए यह कहा जा सकता है कि केंद्र सरकार जल्द किसानों को उनकी मांगों पर लिखित आश्वासन दे सकती है। इसी के साथ हरियाणा में किसानों पर हुए मुक़दमों की वापसी पर सरकार किसानों को पत्र जारी कर सकती है। किसानों का कहना है सरकार का लिखित आश्वासन मिलने के बाद किसानों की कमेटी संयुक्त किसान मोर्चा के सामने बातचीत का ब्यौरा पेश करेगी, और उसी के बाद किसान संगठन आंदोलन वापसी को लेकर फ़ैसला करेंगे।

भोपाल: लॉक कार में मिला डॉक्टर का शव, हाथ में लगी थी सुई

नीट-पीजी 2021 काउंसलिंग में देरी, मंडाविया ने जल्द सुनवाई का वादा किया

फैंस के लिए बुरी खबर, जल्द बंद होने वाला है ये शो!

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -