लीक हुई फेसबुक की ‘सीक्रेट ब्लैकलिस्ट’, हुए ये हैरतअंगेज खुलासे

फेसबुक की एक सीक्रेट ब्लैकलिस्ट लीक हुई है, इसमें कुछ हैरतअंगेज जानकारी सामने आई है। दरअसल, श्वेत वर्चस्ववादी, मिलिट्री राइज्ड सोशल मूवमेंट तथा कथित आतंकवादी सम्मिलित हैं, जिन्हें फेसबुक भयावह मानता है। इस ब्लैकलिस्ट में 4,000 से ज्यादा व्यक्तियों तथा ग्रुपों की खबर है, जिन्हें भयावह माना गया है। इसमें भारत से बाहर उपस्थित 10 आतंकवादी, उग्रवादी अथवा चरमपंथी संगठन भी सम्मिलित हैं, जो बहुत भयावह माने गए हैं।

वही फेसबुक द्वारा अपने प्लेटफॉर्म पर सक्रीय नहीं होने की मंजूरी देने वाली ‘डेंजरस इंडिविजुअल्स एंड ऑर्गेनाइजेशन्स’ की लिस्ट को द इंटरसेप्ट ने मंगलवार को लीक कर दिया। द इंटरसेप्ट के अनुसार, हिंदुत्व समूह सनातन संस्था, प्रतिबंधित भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) तथा नेशनलिस्ट सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नागालैंड (इसाक-मुइवा) उस फेसबुक ब्लैकलिस्ट में सम्मिलित भारत के 10 ग्रुप्स हैं। इसके अतिरिक्त ऑल त्रिपुरा टाइगर फोर्स, कंगलीपाक कम्युनिस्ट पार्टी, खालिस्तान टाइगर फोर्स, पीपुल्स रिवोल्यूशनरी पार्टी ऑफ कंगलीपाक भी सूची में हैं।

वही इंडियन मुजाहिदीन, जैश-ए-मोहम्मद के अफजल गुरु स्क्वाड तथा भारत और कई देशों में सक्रीय इस्लामिक राज्य तथा तालिबान जैसे वैश्विक संगठनों के तमाम स्थानीय या उप-समूह समेत कई इस्लामी चरमपंथी तथा आतंकवादी समूह भी ब्लैकलिस्ट में सम्मिलित हैं। आधी से ज्यादा लिस्ट में कथित विदेशी आतंकवादी सम्मिलित हैं, जो मुख्य तौर पर मध्य पूर्व, दक्षिण एशियाई एवं मुस्लिम हैं। इंटरसेप्ट ने विशेषज्ञों के हवाले से कहा कि ये सूची एवं फेसबुक की पॉलिसी बताती है कि कंपनी हाशिए पर रहने वाले ग्रुप्स पर कड़ी पाबंदी लगाती है। 

प्रसव पूर्व लिंग की जांच करने वाले केंद्रों की जानकारी देने वालों को मिलेगा इतने लाख का इनाम

फेसबुक पर होने जा रहा है बड़ा बदलाव, बदलेगा इस्तेमाल करने का अंदाज

क्या आप भी बना रहे है स्मार्टफोन खरीदने का प्लान तो आपको भी मिल सकता है 6000 रुपये का कैशबैक

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -