क्रिकेट में नयापन लाने का जब छिड़ा विचार, तब इन खिलाड़ियों ने नकार दिया प्लान

भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर और ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज ब्रेट ली ने टी-20 मैचों को चार पारियों में बांटने के विचार को खारिज कर दिया है. क्रिकेट में नयापन लाने की कवायद के तहत हाल में टी-20 मैचों को चार पारियों में बांटने को लेकर चर्चा चल रही थी. गंभीर ने स्टार स्पोर्ट्स के शो 'स्टे कनेक्टेड' पर कहा, 'मैं इसमें अधिक विश्वास नहीं करता कि टी-20 क्रिकेट को दो पारियों में बांटना चाहिए. मुझे लगता है कि सचिन तेंदुलकर ने सुझाव दिया था कि 50 ओवर के क्रिकेट में ऐसा किया जा सकता है जो काफी समझदारी भरा लगता है क्योंकि आपको 25 ओवर (दोनों बार) मिलेंगे.'

क्रिकेट के इतिहास में सबसे तेज गति से गेंदबाजी करने वालों में से एक ली ने कहा कि वह कुछ चीजों को पारंपरिक ही चाहते हैं. उन्होंने कहा, 'मैं टी-20 क्रिकेट का समर्थक हूं, फिर यह चाहे इंडियन प्रीमियर लीग हो या बिग बैश, लोगों को खेल तक लाने के लिए कुछ रोमांचक होना चाहिए.' ली ने कहा, 'लेकिन जब बात क्रिकेट की आती है तो आप कुछ चीजों को पारंपरिक रखना चाहते हैं और मुझे लगता है कि चार पारियां काफी अधिक होंगी.'

एक दिवसीय मैच को चार पारियों में बांटने के बारे में गंभीर ने कहा, 'इससे संभवत: टास की अहमियत कम हो जाएगी क्योंकि कुछ परिस्थितियों में टॉस बड़ी भूमिका निभाता है और मैं इसके पक्ष में हूं.' उन्होंने कहा, 'लेकिन टी-20 में नहीं, यह बेहद छोटा प्रारूप है. इसको 10 ओवर की दो पारियों में बांटने से यह काफी छोटा हो जाएगा.'

मोहम्मद यूसुफ ने इन क्रिकेटरों को बताया अपना पसंदीदा खिलाड़ी

आर आश्विन ने किया खुलासा, कहा- 'साल 2019 के IPL में इसलिए कोई भी बल्लेबाज...'

शोएब अख्तर बनना चाहते है टीम इंडिया के कप्तान

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -