इस ईद दुश्मनों को भी भेजें प्यारभरा संदेश

भाईचारे को बढ़ावा देने वाला ईद का पर्व शनिवार को बनाया जाना है. इस त्यौहार पर मुस्लिम समुदाय के लोग आपस में मिलकर ऊपरवाले से सुख शांति व बरक्कत की दुआ मांगते है. कहते है इस दिन नफरत भुला कर दिलों में मोहब्बत पैदा करने का काम किया जाता है. मुस्लिम परिवारों में सेवई की मिठास के साथ रिश्तों में मिठास घोलने का रिवाज है तो क्यों न आप भी इस मौके को ख़ास बनाएं और इस ईद अपने चाहने वालों को प्यार भरे सन्देश भेज अपने रिश्ते को और अधिक मजबूत बनाएं. 
 

-ईद मुबारक

मिल के होती थी कभी ईद भी दीवाली भी 
अब ये हालत है कि डर-डर के गले मिलते हैं 
ईद मुबारक 

-ईद के लम्हों में याद रखना 

प्यार को ईद के लम्हों में याद रखना 
सुबह जब भी निखार कर देखना 
शाम जब भी बहार कर देखना 
रात को तन्हाई में 
तारें जब भी हर बार देखना 
प्यार को सदा आबाद रखना
प्यार को ईद के लम्हों में याद रखना 

-देखा ईद का चांद तो मांगी ये दुआ रब से 

देखा ईद का चांद तो मांगी ये दुआ रब से 
देदे तेरा साथ ईद का तोहफा समझ के 
ईद मुबारक 

-कोई इतना चाहे तुम्हें तो बताना

कोई इतना चाहे तुम्हें तो बताना 
कोई तुम्हारे इतने नाज उठाये तो बताना 
ईद मुबारक तो हर कोई कह देगा तुमसे कोई हमारी तरह कहे तो बताना

 

आखिर क्या होता है ईद-उल-फित्र का मतलब? आप भी जानिए

चाँद के दीदार के बाद इस खास तरीके से दे ईद की बधाई

अलविदा जुमा शायरियां

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -