मांझी के बयान पर विवाद, स्त्री रक्षा को नक्सलवाद बताने पर दिया जवाब

मांझी के बयान पर विवाद, स्त्री रक्षा को नक्सलवाद बताने पर दिया जवाब

पटना। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने बिहार चुनाव के प्रचार - प्रसार के दौर में बयानबाजी में लग गए हैं। इस दौरान वे अपने विरोधियों पर आरोप लगा रहे हैं तो दूसरी ओर विरोधियों द्वारा लगाए गए आरोपों को लेकर अपनी सफाई देने में लगे हैं। हाल ही में उन्होंने एक विवादास्पद बयान दिए और कहा कि यदि बहू - बेटियों की इज्जत के लिए व ज़्यादती के खिलाफ हथियार उठाया जाए तो क्या वह नक्सलवाद है। यदि यह नक्सलवाद है तो वे सबसे बड़े नक्सली हैं। 

मिली जानकारी के अनुसार विधानसभा अध्यक्ष उदय नारायण के चुनाव क्षेत्र से नामांकन भरने के बाद चुनावी अभियान का शुभारंभ किया गया। इस दौरान पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने कहा कि यदि बहू - बेटी की इज्जत के लिए अपनी भूमि की रखा के लिए और गरीबों का साथ देने के लिए ज़्यादती की जाती है तो दुनिया उसे नक्सली कहती है। दूसरी ओर नक्सली जीतनराम मांझी है उन्होंने कहा कि नक्सली अपने ही भाई हैं। 

इस मामले में उन्होंने कहा कि चुनावी सभा के अंतर्गत पूर्व मुख्यमंत्री ने निशाने पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा विधानसभा अध्यक्ष उदय नारायण द्वारा  कहा गया कि मांझी नीतीश कुमार के इशारे पर चलने वाला कहा। उन्होंने कहा कि यदि उदयनारायण जीत गए तो फिर यहां जंगलराज आ जाएगा।