देवी की मूर्ति तोड़ी, सोने-चांदी के आभूषण चुराए... हिन्दू मंदिर पर इस्लामी कट्टरपंथियों ने फिर किया हमला

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के सिंध प्रांत के कोटरी में अज्ञात हमलावरों ने एक हिंदू मंदिर में तोड़फोड़ मचाई. इस घटना के बाद से स्थानीय हिंदुओं में आक्रोश की लहर दौड़ गई है. पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, हमलावरों ने मंदिर में तोड़फोड़ की और दिवाली से पहले लूटपाट मचाई. ये घटना शुक्रवार को सामने आई. हमलावर प्रतिमा तोड़ने के बाद लाखों रुपये नकद और अन्य कीमती सामान को लेकर फरार हो गए. इस तरह पाकिस्तान के पीएम इमरान खान के अल्पसंख्यक समुदाय की रक्षा के वादे की फिर से पोल खुल गई.

कोटरी पुलिस ने केस तो दर्ज कर लिया है, मगर अभी तक इस मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है. पाहेंजी अखबार ने बताया कि अल्पसंख्यक मंत्री ने क्षेत्र के SSP से रिपोर्ट मांगी है. पाकिस्तानी मीडिया के अनुसार, गुरुवार रात हैदराबाद के जमशोरो (Jamshoro) के कोटरी के दरिया बैंड इलाके के प्राचीन शिव मंदिर से अज्ञात हमलावरों ने जेवर, सोने की मूर्तियां, प्रसाद, यूपीएस बैटरी और अन्य कीमती सामान लूट लिया. आरोपियों ने मंदिर में मौजूद देवी की प्रतिमा को भी क्षतिग्रस्त कर दिया. चोरी के जेवर व अन्य सामान 20 से 25 लाख रुपये के हैं.

पाक मीडिया के मुताबिक,  अल्पसंख्यक मामलों के प्रांतीय मंत्री ज्ञान चंद इसरानी (Gyan Chand Israni) ने सूचना मिलने के बाद 48 घंटे के अंदर SSP जमशोरो से घटना की रिपोर्ट मांगी और आरोपियों को गिरफ्तार करने के आदेश दिए. कोटरी पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है. इसी बीच मंदिरों की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है. दूसरी तरफ, हिंदू समुदाय ने कहा कि ऐसा लगता है कि 4 नवंबर को दिवाली से पहले उपद्रवी हिंदू-मुस्लिम दंगे कराने का षड्यंत्र रच रहे हैं. हिंदू अल्पसंख्यक समुदाय ने मंदिर पर हुए हमले को लेकर दुख प्रकट किया है. बता दें कि पाकिस्तान में आए दिन इस्लामी कट्टरपंथियों द्वारा हिन्दुओं पर हमलों की खबरें आती रहती हैं और पाकिस्तान सरकार के लाख आश्वासन के बाद भी देश का अल्पसंख्यक समुदाय सुरक्षित महसूस नहीं कर पा रहा है.

बेहद रॉयल लाइफ जीती हैं डोनाल्ड ट्रम्प की बेटी इवांका, इतनी है कुल कमाई

आज पॉप फ्रांसिस से मिलेंगे पीएम मोदी, फ्रांस-इंडोनेशिया के राष्ट्रपति के साथ भी करेंगे मीटिंग

वित्त मंत्री रॉबर्टसन ने कहा- "न्यूजीलैंड सरकार के खाते उम्मीद से ज्यादा मजबूत...."

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -