‘गुलाब’ चक्रवात से खतरे में लोगों की जान, जारी हुआ रेड अलर्ट

ओड़िशा के दक्षिण एवं तटीय इलाकों में ‘गुलाब’ चक्रवात के असर से वर्षा का सिलसिला आरम्भ हो गया है। इस बीच ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से चक्रवात गुलाब की तैयारियों को लेकर चक्रवात प्रभावित 11 शहरों के कलेक्टरों के सा​थ मीटिंग की। इस मीटिंग में चीफ सेक्रेटरी भी उपस्थित रहे। IMD के अनुसार, इस चक्रवात के ओड़िशा के गोपालपुर एवं आंध्रप्रदेश के कलिंगपटनम के बीच लगभग आधी रात को तट से टकराने का अनुमान है।

साथ ही विभाग ने बताया कि ओड़िशा में चार माह में आने वाला यह दूसरा चक्रवात है। इसका केंद्र गोपालपुर के दक्षिणपूर्व में लगभग 140 किमी की दूरी और कलिंगपटनम के पूर्व-उत्तर पूर्व में लगभग 190 किमी की दूरी पर है। IMD ने बेहद ज्यादा वर्षा के अनुमान को देखते हुए रेड अलर्ट जारी किया है। विभाग ने कहा, ‘आज रात इसके पश्चिम की तरफ बढ़ने तथा उत्तरी आंध्र प्रदेश एवं दक्षिण ओड़िशा तट को पार करने का अनुमान है।

वही इस के चलते 75-85 किमी प्रति घंटे से लेकर 95 किमी प्रति घंटे की गति तक तूफान चल सकता है। रविवार देर शाम यह प्रक्रिया आरम्भ हो जाएगी।’ IMD के सीनियर एक्सपर्ट आरके जेनामनी ने बताया, IMD ने चक्रवात ‘गुलाब’ के लिए रेड अलर्ट जारी किया है। दक्षिण ओडिशा तथा उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश को आज के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है। चक्रवात के देर शाम/रात में लैंडफॉल का अनुमान है। बता दे कि ओड़िशा सरकार ने पहले ही बचाव एवं राहत कर्मियों एवं मशीनरी को तैयार कर लिया है एवं प्रदेश के दक्षिण भाग के 7 चिह्नित जिलों में जनता को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाना आरम्भ कर दिया है। 

कल रहेगा भारत बंद!

अमिताभ बच्चन से लेकर महेश बाबू तक डॉटर्स डे पर कई स्टार्स ने दिया बेटियों को प्यार

अच्छी खबर! सामने आई '83' की रिलीज डेट

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -