चक्रवात रेमल: बंगाल में गुजरी तबाही की रात, सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाए गए 2 लाख लोग

चक्रवात रेमल: बंगाल में गुजरी तबाही की रात, सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाए गए 2 लाख लोग
Share:

कोलकाता: चक्रवात रेमल, बांग्लादेश से आगे बढ़ने के बाद, अब भारत के पश्चिम बंगाल में पहुँच गया है, जिससे विशेषकर तटीय क्षेत्रों में भारी तबाही हुई है। रविवार रात आए तूफान से कोलकाता में एक शख्स की मौत हो गई. चक्रवात का प्रभाव पश्चिम बंगाल के तीन तटीय जिलों में सबसे गंभीर था, जिसके परिणामस्वरूप लगभग 200,000 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया। कोलकाता के एंटाली इलाके में कंक्रीट की छत गिरने से मोहम्मद साजिद की जान चली गई।

 

चक्रवात रविवार की रात करीब 9:30 बजे बांग्लादेश से पश्चिम बंगाल पहुंचा, शुरुआत में इसकी गति 110 से 120 किमी/घंटा थी, जो बाद में बढ़कर 135 किमी/घंटा हो गई। सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्र दक्षिण 24 परगना जिला था, जिसमे कई द्वीप आते हैं। चक्रवात ने बंगाल में सागर द्वीप और बांग्लादेश में खेपुपारा के बीच मोंगला के पास भूस्खलन किया। दक्षिण और उत्तर 24 परगना में विशेष रूप से डायमंड हार्बर, सागर द्वीप, हिंगलाज और संदेशखाली जैसे क्षेत्रों में महत्वपूर्ण क्षति की सूचना मिली थी।

 

उत्तर 24 परगना के जिला मजिस्ट्रेट एसके द्विवेदी ने कहा कि किसी की मौत की सूचना नहीं है, लेकिन पेड़, बिजली के खंभे और कुछ घर क्षतिग्रस्त हो गए हैं। जिले से लगभग 30,000 लोगों को निकाला गया। दक्षिण 24 परगना के डीएम सुमित गुप्ता ने बताया कि लगभग 150,000 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर स्थानांतरित किया गया है, जिनमें सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्र सागर, नामखाना, बसंती, कुलतली और गोसाबा हैं। भारी बारिश के कारण इन तटीय इलाकों में कुछ कच्चे घरों को भी नुकसान पहुंचा है।

मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि कोलकाता सहित कई जिलों में भारी बारिश जारी रहेगी, जहां रविवार को 140 मिमी बारिश दर्ज की गई। कोलकाता में चक्रवात का असर कुछ कम हुआ है, लेकिन इसके आगे ओडिशा की ओर बढ़ने की आशंका है, जहां इसके प्रभाव को कम करने की तैयारी पहले से ही चल रही है।

चुनावी नतीजों से पहले INDIA गठबंधन की अहम बैठक, प्रधानमंत्री पद के लिए होगा मंथन !

तंबाकू, पान मसाला और गुटखा पर तेलंगाना सरकार ने फिर लगाया प्रतिबंध, पहले भी सुप्रीम कोर्ट हटा चूका है बैन !

हिंसाग्रस्त म्यांमार से भागकर मिजोरम पहुंचे 1300 और शरणार्थी, अब तक 36 हज़ार पहुंचा आंकड़ा

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -