टेस्ट सीरीज: ऑस्ट्रेलिया ने फिर उठाई वही मांग, जिसके लिए भारत पहले ही कर चुका है इंकार

Dec 07 2018 04:19 PM
टेस्ट सीरीज: ऑस्ट्रेलिया ने फिर उठाई वही मांग, जिसके लिए भारत पहले ही कर चुका है इंकार

मेलबर्न: क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया का कहना है कि एडिलेड में भारत व ऑस्ट्रेलिया के बीच जो भी टेस्ट मैच खेले जाएं वो डे-नाइट ही हो, साथ ही  उसे भरोसा है कि, भारतीय टीम जब अगली बार ऑस्ट्रेलिया दौरे पर आएगी तब तक टीम इंडिया पिंक गेंद से टेस्ट मैच खेलने को राजी हो जाएगी. ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट चीफ केविन रोबर्ट्स ने भारत से डे-नाइट टेस्ट मैच खेलने पर विचार करने के लिए अनुरोध किया है. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के चीफ की तरफ से यह बयान उस वक़्त आया जब भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के पहले दिन स्टेडियम खाली था. इससे पहले भी क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ये चाहता था कि चार टेस्ट मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला पिंक गेंद से खेला जाए यानी मैच डे-नाइट हो लेकिन भारत ने इंकार कर दिया था.

सुनील गावस्कर ने कहा- राहुल दूसरी पारी में फ्लॉप हों, तो कर दें बाहर

उल्लेखनीय है कि दुनिया की नंबर एक टेस्ट टीम भारत ने अभी तक कोई डे-नाइट टेस्ट मुक़ाबला नहीं खेला है,  लेकिन बोर्ड किसी बड़े टेस्ट सीरीज के पहले मैच में इस तरह का कोई रिस्क लेने के पक्ष में नहीं है. पिछले तीन वर्षों में एडिलेड में हुए डे-नाइट टेस्ट मैच के पहले दिन स्टेडियम में दर्शकों की संख्या 47,000, 32,000 और 55,000 थी, लेकिन भारत व ऑस्ट्रेलिया के बीच चल रहे एडिलेड टेस्ट मैच को देखने स्टेडियम में पहले दिन मात्र 24,000 दर्शक ही पहुंचे. 

भारत बनाम आॅस्ट्रेलिया: ऋषभ पंत ने धोनी की तरह अश्विन को दी सलाह

इस पर सीए चीफ ने कहा कि अगर ये डे-नाइट टेस्ट मैच होता तो इसे देखने कम से कम 15000 दर्शक और आते.  जब उनसे सवाल किया गया कि दर्शकों की इतनी कम संख्या के बाद क्या आप चाहते हैं कि एडिलेड टेस्ट मैच डे-नाइट होना चाहिए तो उन्होंने जवाब दिया कि बिल्कुल ऐसा ही होना चाहिए. उन्होंने कहा कि पिछले वर्षों में डे-नाइट टेस्ट मैच के दौरान काफी बड़ी संख्या में दर्शक मैच देखने आए थे इसलिए हम इसे वापस लाना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि मुझे उम्मीद है कि वर्ष 2020-21 में जब भारत ऑस्ट्रेलिया दौरे पर आएगा, तब हम उन्हें इसके लिए जरूर मना लेंगे. 

स्पोर्ट्स अपडेट:-

भारतीय गेंदबाजों के आगे बेबस ऑस्‍ट्रेलिया, टीे ब्रेक तक खोए चार विकेट

IND vs AUS : ऑस्ट्रेलिया में लड़खड़ाए हिंदुस्तान के कदम, विराट इतिहास रचने से 'कोहली सेना' दूर ?

आईपीएल 2019: क्या बेस प्राइस घटाने के बाद कायम हो पाएगा 'युवी' का 'राज' ?