एक कंपनी ने भांग से बनाई कोरोना की दवा, साथ ही किया ये दावा

एक कंपनी ने भांग से बनाई कोरोना की दवा, साथ ही किया ये दावा

पुरे विश्व के वैज्ञानिक COVID-19 वायरस से निपटने तथा उसे समाप्त करने के लिए वैक्सीन बनाने के कार्य में जुटे हुए हैं। इसके अतिरिक्त दवाओं पर भी खोज जारी है, जिसकी सहायता से COVID-19 वायरस को या तो समाप्त या उसके असर को कम किया जा सके। इस मध्य कनाडा की एक कंपनी ने ऐसा दावा किया है, जिसने सभी को चौंका दिया है। कंपनी का दावा है कि उसने कैनाबिस मतलब भांग से COVID-19 वायरस की दवा बना ली है तथा वो भारत में इसका ट्रायल करना चाहती है। इस कंपनी का नाम अकसीरा फार्मा है। 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अकसीरा फार्मा ने यह भी दावा किया है कि भांग से बनाई गई उसकी दवा के कोई साइड-इफेक्ट्स नहीं होंगे। यह दवा COVID-19 वायरस की वजह से होने वाली दिल से जुड़े रोगों से बचाएगी। कंपनी ने इस दवा का नाम कैनाबिडियोल रखा है। वही प्राप्त रिपोर्ट्स के अनुसार, कंपनी का कहना है कि भांग से बनाई जाने वाली दवा में साइकोएक्टिव गुण होते हैं, जो इंसान के तंत्रिका तंत्र को राहत देने का काम करते हैं। साथ-साथ इससे बॉडी में होने वाले असहाय तकलीफ से भी राहत प्राप्त होती है। 

वही शोध के अनुसार, COVID-19 वायरस से संक्रमित रोगियों को एरिथमिया नाम की दिल की बीमारी हो जाती है, जिसमें धड़कन ठीक से नहीं चलती, उसमें उतार-चढ़ाव होता रहता है। यदि ठीक वक़्त पर जांच न की जाए तो इसके कारण से दिल का दौरा पड़ने की आशंका बढ़ जाती है। वही कंपनी का दावा है कि उनकी दवा कैनाबिडियोल में एंटीवायरल गुण हैं तथा यह COVID-19 वायरस का उपचार करने में समर्थ है। इसी के साथ कंपनी के अनुसार, इस दवा का कोई साइड इफेक्ट नहीं है।

जानिए क्यों जापानी लोग दिखते है इतने जवां और स्लिम

हीमोग्लोबिन की कमी को ना करे अनदेखा, हो सकता है खतरनाक

देश में कोरोना का रिकवरी रेट 80 % से ऊपर, अबतक लगभग 45 लाख मरीज हुए ठीक