उत्तराखंड में सोमवार को 58 नए कोरोना संक्रमित

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। सोमवार को प्रदेश में 58 नए कोरोना संक्रमित मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही अब प्रदेश में संक्रमित मरीजों की संख्या 2400 के पार पहुंच गई है। अपर सचिव स्वास्थ्य युगल किशोर पंत ने इसकी पुष्टि की है| स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार, हरिद्वार में 17, उधम सिंह नगर में 15, पौड़ी में 10, अल्मोड़ा में 11, देहरादून में दो, टिहरी में एक और नैनीताल में दो संक्रमित मरीज मिले हैं।इसे मिलाकर अब प्रदेश में संक्रमित मरीजों की संख्या 2402 पहुंच गई है। वहीं, प्रदेश में अब तक 1511 संक्रमित मरीज ठीक होकर घर लौट चुके हैं। जबकि अभी भी 848 एक्टिव केस हैं। जबकि अब तक 27 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है ।कोट ब्लॉक स्थित कुंडी गांव में एक होम क्वारंटीन महिला की मौत हो गई। उसे क्वारंटीन किए हफ्ता भर हुआ था। 

स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने महिला की मौत का कारण हार्ट अटैक बताया है। मृतका का सैंपल कोरोना जांच को भेजा गया है।मृतका 58 साल की थी। वह बीती 14 जून को अपने बेटे के साथ दिल्ली से गांव लौटी थी। बेटा मां को गांव छोड़कर वापस दिल्ली लौट गया था, जहां वह एक निजी कंपनी में नौकरी करता है।रविवार दोपहर महिला के स्वास्थ्य में अचानक गिरावट आ गई। ग्राम प्रधान संतोषी देवी और सबदरखाल चौकी प्रभारी एसआई दीपिका बिष्ट ने डॉक्टर को घर बुलाकर उनकी मेडिकल जांच कराई, लेकिन देरशाम उन्होंने दम तोड़ दिया। सीएमओ डॉ. मनोज बहुखंडी ने महिला की मौत कारण हार्ट अटैक बताया। प्रदेश में कोरोना संक्रमण का पहला मामला 15 मार्च को मिला था। 22 जून को कोरोना काल के 100 दिन पूरे हो गए हैं। इस अंतराल में संक्रमित मामलों को लेकर कई उतार चढ़ाव आए। 

आपकी जानकारी के लिए बता दें की शुरूआत में जहां प्रदेश में सैंपल जांच की सुविधा न होने के बावजूद पहले सप्ताह में तीन संक्रमित मामले सामने आए थे। वहीं, सौ दिनों में संक्रमितों का आंकड़ा 2400 पार हो गया है। जबकि प्रदेश में 50 हजार कोरोना सैंपलों की जांच हुई है। प्रदेश में लॉकडाउन-4 के बाद से संक्रमित मामलों में तेजी आई है। जहां 18 मई से पहले 91 संक्रमित मामले थे। वहीं अब संक्रमितों की संख्या 2402 पहुंच गई है। इसी बीच संक्रमित मरीजों के ठीक होने की रफ्तार भी बढ़ी है। वहीं अब तक 1511 मरीज ठीक हो चुके हैं और 27 संक्रमितों की इलाज के दौरान मौत हुई है। वर्तमान में 848 सक्रिय मामले में है। प्रदेश में सैंपल जांच के आधार पर संक्रमण की दर 4.77 प्रतिशत और रिकवरी दर 63 प्रतिशत है। प्रदेश सरकार ने कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य के बुनियादी ढांचे के साथ ही सैंपलिंग को बढ़ाया है। कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए पूरे प्रदेश में जिले स्तर पर 280 कोविड केयर सेंटर स्थापित किए गए हैं। वहीं, 17 डेडीकेट कोविड हेल्थ सेंटरों में ऑक्सीजन और डेडीकेट कोविड अस्पताल में आईसीयू बेड व वेंटीलेटर की व्यवस्था की गई। सैंपल जांच के लिए पांच सरकारी प्रयोगशाला स्थापित की गई हैं।

फेडरेशन ने रोक दी इन नौ धारावाहिकों की शूटिंग

इस सीरियल में नजर आ सकती है रुबीना दिलाइक

इशिता गांगुली जल्द निभाएंगी एक साथ 2 किरदार

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -