80 की उम्र में 10 किमी पैदल चलकर बैंक पहुंच गयी दर्शनी देवी

कोरोना संक्रमण काल में लोगों को मदद पहुंचाने के लिए उत्तराखंड के अगस्तमुनि की 80 वर्षीय दर्शनी देवी भी पीछे नहीं रहीं। डोभा-डडोली गांव की यह वीरांगना पीएम केयर फंड में पैसा जमा कराने के लिए अपने घर से 10 किमी पैदल चलकर बैंक पहुंची। वीरांगना के पति कबूतर सिंह रौथाण वर्ष 1965 में हुए भारत-पाकिस्तान युद्ध में शहीद हो गए थे। दर्शनी देवी की कोई संतान नहीं है। उनके इस जज्बे को देख ईओ ने उनका माल्यार्पण कर स्वागत किया।

शुक्रवार को वृद्धा अपने घर से पैदल ही अगस्त्यमुनि पहुंची। यहां उन्होंने एसबीआई शाखा में पीएम केयर फंड के नाम दो लाख का ड्राफ्ट बनाया और नगर पंचायत के ईओ के माध्यम से धनराशि को दान किया। दर्शनी देवी ने कहा कि कई लोग राज्य व केंद्र सरकार को धनराशि दान कर रहे हैं, जिससे व्यवस्थाएं और ठीक की जा सके। इसलिए, मैंने भी अपनी पेंशन से दो लाख रुपये पीएम केयर फंड में जमा करने का निर्णय लिया है।कहा कि इस संकट की इस घड़ी में आमजन का सहयोग जरूरी है। उनके इस जज्बे को सलाम करते हुए नगर पंचायत के ईओ हरेंद्र चौहान ने दर्शनी देवी का माल्यार्पण किया। नपं अध्यक्ष अरुणा बेंजवाल, सभासद उमा भट्ट, दिनेश बेंजवाल, शाखा प्रबंधक सुनील कुमार, दीप गोस्वामी, रमेश बेंजवाल आदि ने उनकी प्रशंसा करते हुए आभार व्यक्त किया। 

कमला देवी ने दिए डेढ़ लाख रुपये
गौचर में कोरोना वायरस से बचाव के लिए प्रधानमंत्री केयरफंड में सहायता राशि जमा करने के लिए लोग लगातार आगे आ रहे हैं। शुक्रवार को झिरकोटी गांव निवासी एवं राइंका लंगासू में प्रशासनिक अधिकारी के पद पर कार्यरत कमला देवी (57 वर्ष) पत्नी स्व. कमल सिंह नेगी ने सेंट्रल बैंक के माध्यम प्रधानमंत्री केयर फंड में डेढ़ लाख रुपये की धनराशि जमा की।

CM शिवराज ने दिए संकेत, 17 मई के बाद हो सकता है मंत्रिमंडल का विस्तार

आज शाम 5 बजे होगा 10वीं और 12वीं की परीक्षा तिथि का एलान

Honda : इन कारों पर कंपनी दे रही बंपर डिस्काउंट

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -