कोरोना का साया अब चीन संसद सत्र पर छाया, 105 मौते और ....

कोरोना का साया अब चीन संसद सत्र पर छाया, 105 मौते और ....

बीजिंग: दिनों दिन बढ़ती जा रही कोरोना की समस्या के कारण आज हर कोई परेशान है. वहीं कोरोना वायरस की महामारी की छाया चीन के संसदीय सत्र पर पड़ती दिख रही है. वहीं यह भी कहा जा रहा है कि 5 मार्च 2020 को होने वाले संसदीय सत्र को स्थगित किया जा सकता है. उधर, चीन में बीते सोमवार यानी 17 फरवरी 2020 को 105 और लोगों की वायरस संक्रमण के चलते मौत हो गई. इस तरह मरने वालों की संख्या बढ़कर 1,770 हो गई. वहीं राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने कहा है कि संक्रमण के 2,048 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमित लोगों की कुल संख्या 70,548 हो गई है.

वहीं यह भी कहा जा रहा है कि पिछले साल दिसंबर में हुई आधिकारिक घोषणा के अनुसार, चीन की सर्वोच्च विधायिका नेशनल पीपुल्स कांग्रेस (एनपीसी) का सालाना सत्र बीजिंग में पांच मार्च को होने वाला है. रिपोर्ट्स के अनुसार, कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए एनपीसी की स्थायी समिति इस पूर्ण सत्र को टालने पर विचार करेगी. एनपीसी का सत्र टाला जाना एक अभूतपूर्व फैसला होगा. हम बता दें कि सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना (सीपीसी) के वार्षिक एजेंडे में दो सत्र सबसे महत्वपूर्ण होते हैं. इसमें एक राष्ट्रीय बजट का सत्र होता है.

जापान में क्रूज में फंसे 99 और लोग संक्रमित: वहीं यह भी कहा जा रहा है कि जापान में खड़े क्रूज में 99 और लोगों के संक्रमित होने का पता चला है. इस तरह जहाज पर कोरोना वायरस से अब तक 454 लोग संक्रमित हो चुके हैं. हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि इन आंकड़ों में वह 14 अमेरिकी भी शामिल हैं, जिनका टेस्ट पॉजिटिव आने के बाद भी उन्हें स्वदेश जाने की अनुमति दी गई है.

IMF का दावा, कोरोना वायरस के चलते गिरेगी पूरी दुनिया की GDP ग्रोथ रेट

पाकिस्तान ने जीता कबड्डी विश्व कप, बिना सरकारी अनुमति के पहुंची थी भारतीय टीम

अभी ख़त्म भी नहीं हुआ है Corona का कहर और ब्राज़ील में मिल गया सबसे बड़ा Yaravirus