कोरोना से जंग में मिलेगी मदद, संयुक्त राष्ट्र ने भारत भेजे 10,000 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर

नई दिल्ली: भारत को कोरोना की दूसरी लहर से मुकाबला करने में संयुक्त राष्ट्र संघ से बड़ी मदद मिली है। संयुक्त राष्ट्र की एजेंसियों की तरफ से भारत को अब तक 10,000 ऑक्सीजन कन्सनट्रेटर्स और 1 करोड़ मेडिकल मास्क की आपूर्ति की गई है। यूनाइटेड नेशंस के चीफ एंटोनियो गुतारेस के प्रवक्ता की तरफ से इस बारे में जानकारी दी गई है। UN चीफ के प्रवक्ता स्टीफाने दुजारिक ने कहा है कि भारत में संयुक्त राष्ट्र की टीम लगातार सहायता कर रही है। 

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार और स्थानीय प्रशासन को निरंतर मदद की जा रही है, ताकि कोरोना महामारी का मुकाबला किया जा सके। UN चीफ के प्रवक्ता ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) और यूएन पॉप्युलेशन फंड की तरफ से भारत को अब तक 10,000 ऑक्सीजन कन्सनट्रेटर्स भेजे गए हैं। इसके साथ ही लगभग 1 करोड़ मेडिकल मास्क और 15 लाख फेस शील्ड भी पहुंचाए गए हैं। यूनाइटेड नेशंस की टीम ने भारत की मदद के लिए वेंटिलेटर्स और ऑक्सीजन जनरेटिंग प्लांट्स की भी खरीद की है।

इसके अलावा UNICEF की ओर से भी कोरोना से निपटने के लिए आवश्यक उपकरणों की सप्लाई भारत को की जा रही है। उन्होंने कहा कि हमारी टीम ने बड़ी तादाद में टेस्टिंग मशीनों और किट्स की भी खरीद की है। इसके अलावा एयरपोर्ट थर्मल स्कैनर भी खरीदे गए हैं। यूनाइटेड नेशंस का कहना है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की तरफ से अस्थायी हेल्थ फैसिलिटीज के लिए टेंट और बेड भी उपलब्ध कराए जा रहे हैं। इसके अलावा एजेंसी ने हजारों पब्लिक हेल्थ स्पेशलिस्ट भी तैनात किए हैं ताकि कोरोना संक्रमण का मुकाबला किया जा सके। 

मुंबई में आज 12 बजे के बाद ही खुलेंगे यह वैक्सीनेशन सेंटर्स

राष्ट्रीय विज्ञान अकादमी के लिए चुने गए भारतीय मूल के विशेषज्ञ शंकर घोष

बेंगलुरु ने लक्जरी होम प्राइस राइज टैली में विश्व स्तर पर 40वा स्थान किया हासिल

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -