पंजाब : राज्य सरकार ने विदेश में फंसे अपने लोगों के लिए किया ऐसा काम

दुनिया में लॉकडाउन की पाबंदियों के चलते विभिन्न देशों में फंसे पंजाबियों, जिनमें विद्यार्थी भी हैं, की मुश्किलें दूर करने के लिए पंजाब सरकार ने पहल की है.सरकार ने विभिन्न देशों के लिए को-आर्डीनेटरों की नियुक्ति की है, ताकि प्रवासी पंजाबी संबंधित देश में उनसे तालमेल स्थापित कर सकें.एनआरआई, खेल और युवा मामलों संबंधी मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढी ने कहा कि कोरोना संकट के चलते लॉकडाउन के कारण यात्रा पाबंदियों में बहुत से प्रवासी भारतीय विदेशों में या भारत में फंस गए हैं।

जानवरों में भी कोरोना का खतरा, जम्मू-कश्मीर की वाइल्ड लाइफ सेंचुरी बंद

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि विदेश मंत्रालय (एमईए) ने इस संबंध में नौ राज्यों के साथ मीटिंग भी की है, ताकि इन एनआरआई को अपेक्षित सहायता और सलाह दी जा सके.विदेश मंत्रालय का यह भी मानना है कि एनआरआई को तालाबंदी खत्म होने पर भारत आने के बाद आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ सकता है.उन्होंने बताया कि प्रवासी पंजाबियों को आनरेरी को-आर्डिनेटरों से जोड़ने की पहल की है ताकि उनकी सहायता की जा सके।

पर्यटन विभाग में व्याप्त भ्रष्टाचार को लेकर मंत्री विश्वेंद्र सिंह ने बोली यह बात

वायरस के प्रकोप के बीच यह को-आर्डिनेटरों विदेशों में विभिन्न मिशनों वाले नोडल अफसरों के संपर्क में हैं और प्रवासी भारतीयों को पेश समस्याओं /मुद्दों को उठा रहे हैं.सोढी ने कहा कि अगर कोई एनआरआई किसी भी समस्या का सामना कर रहा है तो वह सीधा उनके साथ मेल आईडी  sportsministerpunjab@gmail.com पर संपर्क कर सकता है.उन्होंने आगे कहा कि एनआरआई से संबंधित किसी भी मामले के लिए विभाग के सचिव राहुल भंडारी के साथ भी मेल आईडी  psnri@gmail.com  पर संपर्क किया जा सकता है।

20 कोरोना संक्रमित मिलने के बाद सील किया गया नांदेड़ गुरुद्वारा

अजित पवार पर फिर मंडराया संकट, ED ने खोला सिंचाई विभाग घोटाले का

केसक्या वाकई मुस्लिमों से नफरत करता है RSS? यह Video तोड़ देगा आपके सारे भ्रम

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -