असम में कांग्रेस को लगेगा झटका ! टिकट न मिलने से नाराज़ सांसद अब्दुल खालिक दे सकते हैं इस्तीफा

असम में कांग्रेस को लगेगा झटका ! टिकट न मिलने से नाराज़ सांसद अब्दुल खालिक दे सकते हैं इस्तीफा
Share:

गुवाहाटी: भारत जोड़ो न्याय यात्रा के समापन से दो दिन पहले, कांग्रेस पार्टी को असम में झटका लगने की संभावना है, क्योंकि सूत्रों का कहना है कि बारपेटा लोकसभा से वर्तमान संसद सदस्य, अब्दुल खालिक पार्टी से असंतोष के कारण इस्तीफा दे सकते हैं। बता दें कि, कांग्रेस पार्टी ने बारपेटा से मौजूदा सांसद अब्दुल खालिक को लोकसभा टिकट नहीं दिया, बल्कि उनकी सीट असम प्रदेश कांग्रेस सेवादल के अध्यक्ष दीप बयान को आवंटित कर दी।

कांग्रेस पार्टी द्वारा मौजूदा सांसद अब्दुल खालिक को टिकट देने से इनकार करने को उनके पार्टी से आसन्न निकास के कारण के रूप में देखा जा रहा है। सूत्रों का कहना है कि वर्तमान सांसद ने दावा किया है कि कांग्रेस पार्टी असम में मुस्लिम समुदाय की उपेक्षा कर रही है, जिसके कारण उन्होंने पार्टी को अलविदा कह दिया है। कांग्रेस पार्टी ने 12 मार्च को आगामी लोकसभा चुनाव के लिए असम के 12 उम्मीदवारों की सूची जारी की। पार्टी 14 में से 13 सीटों पर चुनाव लड़ रही है और एक सीट अपने सहयोगी असम जातीय परिषद (एजेपी) के लिए आरक्षित कर रही है।

पार्टी सांसद गौरव गोगोई जोरहाट से चुनाव लड़ेंगे जबकि सांसद प्रद्योत बोरदोलोई अपनी सीट नगांव से चुनाव लड़ेंगे। असम जातीय परिषद के अध्यक्ष लुरिनज्योति गोगोई डिब्रूगढ़ से कांग्रेस के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ेंगे। इस बीच, असम में राज्य विधानसभा के उपाध्यक्ष नुमल मोमिन ने आगामी लोकसभा चुनावों के लिए उम्मीदवारों की पसंद को लेकर पार्टी का मजाक उड़ाया। असम के लिए लोकसभा उम्मीदवारों की पसंद को लेकर कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए मोमिन ने कहा कि सत्तारूढ़ भाजपा इस सूची से 'बहुत खुश' है क्योंकि इससे यह सुनिश्चित होगा कि कांग्रेस राज्य में बुरी तरह हारेगी और पूरे देश में उसकी सीटें बढ़ेंगी।  

मोमिन ने कहा कि "हम असम के लिए कांग्रेस की सूची देखकर बहुत खुश थे, क्योंकि अब हम पूरे विश्वास के साथ कह सकते हैं कि वे राज्य में एक भी सीट नहीं जीतेंगे। मुझे डर है कि कांग्रेस एक भी लोकसभा सीट जीतने में असफल हो सकती है, पूरे पूर्वोत्तर क्षेत्र में। कांग्रेस की ऐसी हालत है कि किसी को आश्चर्य नहीं होगा अगर देश भर में उसकी सीटों की संख्या घटकर एकल अंक में आ जाए। मुझे संदेह है कि क्या कांग्रेस पहले कभी ऐसी स्थिति में रही है।''

'इन पाकिस्तानियों को तो जेल में होना चाहिए..', दिल्ली में प्रदर्शन कर रहे शरणार्थियों पर भड़के केजरीवाल, CAA पर मचा बवाल

'इंडी गठबंधन कभी भी तमिलनाडु को विकसित नहीं बना सकता', PM मोदी ने बोला हमला

पीएमश्री धार्मिक पर्यटन हेली सेवा के पहले यात्री बने कैलाश विजयवर्गीय, बाबा महाकाल के किए दर्शन

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
Most Popular
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -