कांग्रेस पार्टी ने फिर शुरू की 'रिस्ट्रक्चरिंग', विधानसभा चुनाव से पहले राहुल गांधी ले सकते है बड़ा फैसला

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने पार्टी में बड़े परिवर्तन के संकेत देने आरम्भ कर दिए है। जी हां ये संकेत गोवा की जमीन से जुड़े हुए है, लेकिन जानकारी मिली हैं कि इसे पूरे देश में लागू किया जाएगा। राहुल गांधी ने यह कहा है  कि जो लोग बीच राह में कांग्रेस का साथ छोड़ चुके है। या जनता ने जिन पर विश्वास किया, उनको जिताया, और सत्ता के लिए ऐसे दगाबाज नेताओं ने पार्टी का दामन को छोड़ चुके है। अब ऐसे दगाबाज नेताओं को ना तो टिकट मिलेगा ना ही पार्टी में कोई जिम्मेदारी दी जाने वाली है। राहुल ने पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के साथ इस योजना को न सिर्फ शेयर किया बल्कि लागू करने की बात भी बोली है।

2017 में गोवा में जिस तरीके से कांग्रेस के विधायकों की संख्या अधिक थी और गवर्नमेंट बनाने के पास थे, लेकिन कांग्रेस के विधायकों ने दल बदल कर BJP का  हाथ पकड़ लिया और गवर्नमेंट बना ली थी। अब जब विधानसभा का चुनाव गोवा में जल्द ही शुरू होने वाले है तो राहुल गांधी ने उसी जमीन से इस बात घोषणा की गई है कि ऐसे दल बदलू नेताओं को सिर्फ गोवा ही नहीं बल्कि पूरे देश में पार्टी में कोई स्थान नहीं मिलने वाला है। कांग्रेस से जुड़े नेताओं ने बोला है कि राहुल गांधी ने यह बात सिर्फ गोवा के लिए ही नहीं बल्कि पूरे देश के उन नेताओं के लिए कही है जो पार्टी के साथ जुड़े तो रहते हैं, लेकिन अंदर ही अंदर पार्टी को कमजोर कर रहे है। कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री ने बोला है कि दरअसल यह संदेश उन बचे हुए कुछ G-23 नेताओं के लिए भी है जो कांग्रेस पार्टी को कमज़ोर करने के लिए निरंतर बयानबाज़ी  कर रहे है।

दल-बदल करने वाले नेताओं पर गिरेगी गाज: जहां इस बात का पता चला है कि कांग्रेस से जुड़े सूत्रों के मुताबिक, जिन 5 राज्यों में अभी चुनाव होने हैं उनमें पार्टी अधिकांश उन लोगों को टिकट देने की योजनाको बढ़ावा दिया जा रहा है इतना ही नहीं जो लोग लम्बे समय seसे कांग्रेस पार्टी  के साथ काम कर रहे है। पार्टी विचार कर रही है कि दल बदल कर आने वाले नेताओं पर बहुत  अधिक ध्यान ना दिया जाए। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने तह भी कहा है कि ऐसा करके कांग्रेस न सिर्फ 2022 के चुनावों में बल्कि 2024 और उसके उपरांत आने वाले विधानसभा और लोकसभा के चुनावों में एक बेहतर रोड मैप और बेहतर मूल्यों के साथ कांग्रेस पार्टी को आगे बढ़ाने में सहायता भी प्रदान करेगी।

समीर वानखेड़े से नाराज अमित शाह, जानिए क्या है वजह?

सरदार वल्लभ भाई पटेल की 146वीं जयंती पर पीएम मोदी और राष्ट्रपति ने अर्पित की श्रद्धांजलि

क्या मुगलों की संतान थीं इंदिरा गांधी ? 'बाबर' की कब्र पर जाकर कही थी देशद्रोही बात

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -