कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल को रास नहीं आया चीनी एप बैन करने का फैसला, कही ये बात

कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल को रास नहीं आया चीनी एप बैन करने का फैसला, कही ये बात

नई दिल्ली: लद्दाख में भारत-चीन के बीच वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर जारी गतिरोध के बीच भारत सरकार ने सोमवार को ऐतिहासिक कदम उठाते हुए टिक टॉक, यूसी ब्राउजर समेत चीन के 59 ऐप्स पर बैन लगा दिया. अब कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने मोदी सरकार के इस फैसले पर सवाल खड़े किए हैं. 

कपिल सिब्बल ने ट्वीट करते हुए कहा है कि हमारी जमीन को वापस लो जबकि आप चीन की ऐप्स प्रतिबंधीत कर रहे हैं. सुरक्षा में जो गैप हैं उनको भरने का प्रयास करें, आप पर हमारे भरोसे को टूटने ना दो. हमारे वीर जवानों ने चीनी सेना को वापस भेजकर उन्हें फिर से नया मानचित्र बनाने के लिए विवश किया है. बता दें कि चीन के साथ जारी सीमा विवाद के लगभग दो महीने बाद भारत सरकार ने ये कड़ा फैसला लिया है. सरकार ने चीन के मोबाइल ऐप्स को देश की बाहरी और आंतरिक सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा बताते हुए बैन का ये निर्णय लिया है.

भारत सरकार ने चीन के जिन ऐप्स पर प्रतिबंध लगाया है उनमें Tik tok, Cam scaner, Share It, Helo, Vigo Video, UC Browser, Club Factory, Mi Video Call-Xiaomi, Viva Video, WeChat और UC News जैसे जाने माने ऐप्स शामिल हैं. इन ऐप्स के ब्लॉक होने का मतलब है कि अब भारतीय यूजर्स इन ऐप्स का उपयोग नहीं कर पाएंगे.

 

पाकिस्तान ने आज से फिर खोला करतारपुर कॉरिडोर, नहीं पहुंचा एक भी भारतीय श्रद्धालु

चीनी एप बैन करने के फैसले पर विपक्ष ने उठाए सवाल, कहा- अलीबाबा पर शिकंजा क्यों नहीं?

भाजपा कहती है 'मेक इन इंडिया', लेकिन करती है 'बाय फ्रॉम चायना' - राहुल गाँधी