मध्यप्रदेश में कर्जमाफी को लेकर सियासत तेज, सिंधिया ने अपनी ही सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा

मध्यप्रदेश में कर्जमाफी को लेकर सियासत तेज, सिंधिया ने अपनी ही सरकार के खिलाफ खोला मोर्चा

नई दिल्ली: मध्य प्रदेश में 15 वर्ष बाद सत्ता में वापसी करने वाली कांग्रेस में गुटबाजी और गहरी होती जा रही है। कर्जमाफी पर पूर्व सीएम और कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह के भाई के बाद अब गुना से पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी सवाल खड़े किए हैं। ज्योतिरादित्य सिंधिया ने स्वीकार किया कि उनकी सरकार द्वारा किया हुआ कर्जमाफी का वादा पूर्णतया पूरा नहीं हुआ है। इससे पहले दिग्विजय सिंह के भाई लक्ष्मण सिंह ने कहा था कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को किसानों से माफी मांगनी चाहिए।

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि, 'सरकार का जो कर्जमाफी का वादा था वह पूरा नहीं हो सका है। किसानों का केवल 50 हजार रुपये तक का कर्ज माफ किया गया है, जबकि हमने 2 लाख रुपये तक का कर्ज माफ करने का वादा किया था। इसलिए राज्य सरकार को किसान का पूरा कर्जमाफ करने की दिशा में काम करना चाहिए।'

इससे पहले पिछले महीने दिग्गज कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के भाई और कांग्रेस MLA लक्ष्मण सिंह ने अपनी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा था कि किसानों की कर्जमाफी का वादा पूरा नहीं किया गया है। उन्होंने यह भी कहा था कि राहुल गांधी को किसानों से माफी मांगनी चाहिए और बताना चाहिए कि कर्ज माफ करने में अभी और कितना समय लगेगा।

प्रियंका वाड्रा का केंद्र से सवाल, कहा- 76000 करोड़ रुपये का लोन किसके लिए माफ कर रही मोदी सरकार

कर्नाटक के पूर्व उपमुख्यमंत्री जी परमेश्वर के घर इनकम टैक्स का छापा, साढ़े चार करोड़ की नकदी बरामद

पाकिस्तान में नहीं थम रहा अल्पसंख्यकों पर अत्याचार, एक और हिन्दू लड़की को जबरन बनाया मुस्लिम