कोरोना संक्रमित होना पाप नहीं है: CM YS जगन

ताडेपल्ली : हाल ही में मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने कोरोना मामलों के बारे में बात की. उन्होंने कहा कि 'प्रदेश में कोरोना महामारी को नियंत्रित करने के लिए प्रदेश के हर कर्मचारी से लेकर अधिकारी तक कड़ी मेहनत कर रहे हैं. कोविड के संबंध में सरकार कहीं भी पर गलत काम नहीं किया है. सरकार ने कोरोना के मामलों को कभी भी कम करके नहीं दिखाया है. देश में हर दिन 50 हजार टेस्टिंग किये जाने का श्रेय एक मात्र एपी को जाता है.'

जी दरअसल मुख्यमंत्री ने बीते मंगलवार को वीडियों कांफ्रेंस में कोरोना नियंत्रण के बारे में बात की. इस दौरान स्पंदना कार्यक्रम आयोजित हुआ जिसमे जिलों की हालत पर जिलाधीशों के साथ बात की गई. मुख्यमंत्री ने कहा कि 'अधिकारियों ने बताया कि प्रदेश में ताजा 6 हजार मामले दर्ज किये गये हैं. ज्यादा मामले दर्ज होने पर लोग भयभीत होते हैं. कुछ राज्यों में कोरोना के मामले ज्यादा होने के कारण टेस्टिंग को कम किया गया है और रिपोर्ट में आंकड़े कम करके बताया जा रहा है.' इसके अलावा उन्होंने कहा 'आंध्र प्रदेश में ऐसा नहीं किया जा रहा है. प्रदेश में 90 फीसदी टेस्टिंग कोविड क्लस्टरों में किये जा रहे हैं. इसी के साथ सरकार कोविड संक्रमित मरीज को इलाज किये जाने के लक्ष्य को लेकर आगे बढ़ रही है.' वहीं उन्होंने आगे बात करते हुए कहा कि, 'प्रदेश में एक लाख से अधिक पॉजिटिव मामले दर्ज हुए हैं. इनमें से आधे लोग ठीक हो गये हैं. प्रदेश में बड़े-बड़े अस्पताल नहीं है. फिर भी मौत की दर में 1.06 फीसदी तक सीमित किया गया है.'

इसी के साथ सीएम ने कहा कि 'किसी भी मरीज को बेड नहीं मिला है यह शब्द कहीं पर भी सुनाई नहीं देना चाहिए.' उन्होंने कहा, "कोविड के साथ जीना है. कोविड आएगा और जाएगा भी. वैक्सिन आये तक हमें इंतजार करना है. मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री भी कोरोना से संक्रमित हुए हैं. कोरोना संक्रमित होना कोई पाप नहीं हैं और ना ही यह अपराध है. कोरोना के कारण मौत हो चुके मरीज से अन्य लोगों को संक्रमण न हो इसके लिए आवश्यक कदम उठाया जा रहा है. कोरोना से मरने वाले व्यक्ति में कुछ समय के बाद वायरस नहीं रहता है. कोरोना के कारण मारे गये व्यक्ति का उसके रिश्तेदार अंतिम संस्कार के लिए आगे नहीं आना अत्यंत खेद की बाद है. इंसानियत के टूटते बंधन को इस सयम हम देख रहे हैं. कोरोना के कारण मारे गये व्यक्ति के अंतिम संस्कार के लिए 15 हजार रुपये दिया जा रहा है."

एमएलसी पद पर मनोनीत हुए पंडुला रवींद्र बाबू और जकिया खानम

बॉयोटेक क्षेत्र में प्रमुख आइकॉन डॉक्टर बी एस बजाज का हुआ निधन

तेलगु एक्टर रावी कोंडल राव का हुआ निधन

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -