परमाणु युद्ध की तैयार कर रहा चीन ? 300 फीसदी बढ़ाना चाहता है न्यूक्लियर हथियार

बीजिंग: पूरी दुनिया में खलनायक बन चुका चीन कोरोना महामारी के बाद अब दुनिया को भीषण परमाणु युद्ध की मुसीबत में डालने की कोशिश में दिख रहा है. अमेरिका और चीन के बीच दक्षिण चीन सागर में तनाव गहरा रहा है. घातक हथियारों के साथ दोनों देश कई बार आमने-सामने आ चुके हैं. ऐसे में चीन में विशेषज्ञ अब परमाणु हथियारों का जखीरा बढ़ाने का मशवरा दे रहे हैं.

चीन के इस रुख के बाद इस बात की आशंका जताई जा रही है कि क्या ड्रैगन के कारण दुनिया में भीषण परमाणु युद्ध होने वाला है. कोरोना संकट में अमेरिका और चीन के बीच चल रही बहस एक तरफ है. किन्तु जिस तरह से दक्षिण चीन सागर में वर्चस्व की लड़ाई के बीच इस क्षेत्र में चीन और अमेरिका घातक हथियारों का जखीरा जमा कर रहे हैं और चीन ने अमेरिका के परमाणु ताकत के मुकाबले की तैयारी शुरू कर दी है ऐसे में दुनिया को डर सता रहा है कि कहीं उस महायुद्ध का आरम्भ तो नहीं होने वाला, जो मानवता के लिए सबसे बड़ा श्राप साबित होगा. 

दरअसल, दक्षिण चीन सागर में अमेरिका और चीन के बीच तनाव बढ़ रहा है जिसके बाद एक्सपर्ट्स चीन को अपने परमाणु हथियारों का जखीरा बढ़ाने की सलाह दे रहे हैं. चीन की सरकारी मीडिया ग्लोबल टाइम्स के संपादक हू शिजिन के अनुसार अमेरिका का मुकाबला करने के लिए चीन को परमाणु हथियारों में इजाफा करना होगा. चीन को अपने परमाणु हथियारों की संख्या बढ़ाकर 1000 करनी होगी, क्योंकि अमेरिका के पास चीन के मुकाबले परमाणु अस्त्रों का बड़ा जखीरा मौजूद है. 

ब्रिटेन में 1 जून तक बढ़ाया गया लॉकडाउन, पीएम बोले- छूट देने पर चल रहा विचार

दक्षिण कोरिया के निर्यात पर कोरोना की मार, अर्थव्यवस्था को बड़ा झटका

पाकिस्तान में कोरोना ने ढाया कहर, सामने आए 1900 से अधिक मामले

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -