आज है लोकआस्था का महापर्व, श्रद्धालु देंगे डूबते हुए सूर्य को अर्घ्य

Apr 11 2019 10:40 AM
आज है लोकआस्था का महापर्व, श्रद्धालु देंगे डूबते हुए सूर्य को अर्घ्य

आप सभी को बता दें कि लोकआस्था के महापर्व में छठव्रती आज डूबते हुए सूर्य को अर्घ्य देंगे और कल यानी बुधवार की शाम छठव्रतियों ने खरना का प्रसाद ग्रहण कर निर्जला उपवास शुरू किया. ऐसे में व्रतियों ने खरना का प्रसाद बनाकर छठी माता की पूजा-अर्चना की और प्रसाद वितरण भी किया और इसी के साथ 36 घंटे का निर्जला व्रत भी शुरू हो गया. आप सभी को बता दें कि कल घरों में छठी मइया के गीत गाए और उलार और पुण्यार्क सूर्य मंदिर, कलेक्ट्रेट घाट सहित कई प्रमुख पर भी छठव्रती बुधवार को पहुंच गए.

ऐसे में अर्घ्य से पहले घाटों पर तैयारी चलती रही और राजधानी के प्रमुख गंगा घाटों पर देर रात तक रौनक दिखी. वहीं पटना चैती छठ व्रतियों को अर्घ्य देने के लिए पटना के गंगा घाट तैयार हो गए हैं. इसी के साथ दीघा के घाट संख्या 93 और 83 को आपस में जोड़ दिया गया है और इससे घाट की चौड़ाई बढ़ गई है और अब घाट संख्या 83 पर भी अर्घ्य पड़ सकेगा.

वहीं घाटों के निर्माण के साथ-साथ बुधवार को अधिकतर घाटों पर रोशनी की व्यवस्था हो गई थी और घाटों पर पानी के अंदर सुरक्षित दूरी तक बैरिकेडिंग का काम भी पूरा कर लिया गया है. इसी के साथ घाटों पर बड़ी संख्या में आने वाले श्रद्धालुओं को देखते हुए पेयजल के लिए पटना नगर निगम के द्वारा पानी का टैंकर उपलब्ध कराया गया है जो सभी के लिए लाभप्रद साबित हुआ.

हर ग्रह को पसंद है ख़ास सुगंध, ऐसे कर सकते हैं खुश

सुपारी में इस रंग के धागे को लपेटकर रख लें तिजोरी में, हो जाएंगे मालामाल

प्यार में कभी धोखा नहीं देती इस नाम की लडकियां