पांच साल बाद कश्मीरी खुद महसूस करेंगे कि उन पर थोपी गई थी धारा 370- स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन

पांच साल बाद कश्मीरी खुद महसूस करेंगे कि उन पर थोपी गई थी धारा 370-  स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन

नई दिल्ली: मोदी सरकार 2.0 में स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा है कि 5 वर्ष बाद जम्मू-कश्मीर के लोग खुद अहसास करेंगे कि आखिरकार धारा 370 उन पर क्यों थोपकर रखा गया था. पुणे में एक कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि अगले 5 वर्ष में जम्मू कश्मीर में स्वास्थ्य सेवाओं में काफी विकास किया जाएगा.

केंद्रीय मंत्री से जब सवाल किया गया कि जम्मू कश्मीर में सरकार को स्वास्थ्य संबंधी क्या समस्याएंआ रही हैं और इसका समाधान कैसे किया जा सकता है? तो उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर से स्वास्थ्य विभाग की सम्बंधित कोई खास समस्या तो नहीं है, किन्तु सरकार जम्मू-कश्मीर से सम्बंधित सभी मसलों का ईमानदारी पूर्वक समाधान कर रही है, और इसमें सेहत का मुद्दा भी शामिल है. डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि पिछले पांच वर्षों में सरकार ने जम्मू-कश्मीर में हेल्थ सेक्टर में बहुत काम किया है, वहां पर AIIMS की स्थापना हुई है और अब ये पूरी तरह से कार्य कर रहा है.

डॉ हर्षवर्धन ने कहा कि अगले पांच वर्षों में जम्मू-कश्मीर में इतना विकास किया जाएगा कि वहां के लोग खुद महसूस करेंगे कि आखिर उन पर धारा 370 क्यों थोपकर रखी गई थी. आपको बता दें कि मोदी सरकार ने जम्मू कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाली संविधान की धारा 370 को हटा लिया है. इस के बाद वहां सरकार ने एहतियान कई पाबंदियां लगा दी हैं.

यूपी की जनता को लगा बड़ा झटका, योगी सरकार ने लागू किया बिजली का नया टैरिफ

इमरान खान के पूर्व विधायक ने भारत से मांगी पनाह, कहा- पाक में हिन्दू-सिख सुरक्षित नहीं

बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना ने इंदिरा गाँधी को पछाड़ा, हासिल की ये उपलब्धि