'इंडियन वैरिएंट' का नाम इस्तेमाल करने पर केंद्र का सख्त रुख, सोशल मीडिया से कहा- फ़ौरन हटाएँ ऐसे कंटेंट

नई दिल्ली: पूरे देश में फैले कोरोना संक्रमण को लेकर सोशल मीडिया पर कई तरह की भ्रामक पोस्ट साझा की जा रही हैं. इसी बीच के सरकार ने सोशल मीडिया कंपनियों से कहा है कि वे अपने प्लेटफॉर्म से किसी भी ऐसे कंटेंट को फ़ौरन हटा दें, जो कोरोन वायरस के 'इंडियन वेरिएंट' शब्द का इस्तेमाल करता है या संदर्भित करता है. ताकि COVID-19 से संबंधित फेक न्यूज़ पर अंकुश लगाया जा सके. सूत्रों ने शुक्रवार को इस बारे में जानकारी दी है.  

सूत्रों के अनुसार, IT मंत्रालय ने सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को पत्र लिखते हुए कहा है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने अपनी किसी भी रिपोर्ट में 'इंडियन वेरिएंट' शब्द को कोरोना वायरस के B.1.617 वेरिएंट के साथ नहीं जोड़ा है. जानकारी के अनुसार, इस संबंध में शुक्रवार को IT मंत्रालय की तरफ से एक नोटिस जारी किया गया है, जिसमें कहा गया है कि सोशल मीडिया पर गलत बयान साझा किये जा रहे हैं. जिसके अनुसार, कोरोनावायरस का एक 'इंडियन वेरिएंट' सभी देशों में फैल रहा है.

मामले को स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा 12 मई को जारी की गयी एक प्रेस रिलीज के जरिए पहले ही स्पष्ट किया जा चुका है. उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स से कहा गया है कि वो अपने प्लेटफॉर्म से उन तमाम कंटेंट को फ़ौरन हटा दें, जो आपके प्लेटफॉर्म से कोरोनवायरस के 'इंडियन वेरिएंट' का नाम, संदर्भ या अर्थ देते हैं.

CM शिवराज ने अंतर्राष्ट्रीय जैव विविधता दिवस पर सभी प्रदेशवासियों से की ये अपील

कनाडा के दिल की धड़कन है ये स्थल

तेलंगाना के अस्पताल से कोविशील्ड की 50 शीशियां गायब, जांच के आदेश जारी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -