पंजाब में खींचतान के बीच बोले कैप्टन अमरिंदर- जब सिद्धू पैदा हुए, तब मैं बॉर्डर पर लड़ रहा था.

अमृतसर: कांग्रेस नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने शुक्रवार को सीएम अमरिंदर सिंह की उपस्थिति में पार्टी की पंजाब इकाई के अध्यक्ष के रूप में पदभार संभाला, जिससे प्रदेश में ‘नेतृत्व संकट’ खत्म हो गया। घटना से कुछ समय पहले, पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि 'पंजाब विवाद को हल कर लिया गया है।' 

बता दें कि पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू ने आज चंडीगढ़ में चाय पर मुलाकात की है। अमृतसर (पूर्व) से MLA सिद्धू के साथ अपने संबंधों के बारे में बताते हुए, सीएम अमरिंदर, जिन्होंने इंडियन आर्मी में सेवाएं दी हैं, ने कहा कि 'जब सिद्धू पैदा हुए थे, उस समय मैं बॉर्डर पर लड़ रहा था।' वहीं, राज्य कांग्रेस मुख्यालय में कार्यभार संभालने के बाद,सिद्धू ने कहा कि पार्टी के एक सामान्य कार्यकर्ता और इसकी राज्य इकाई के अध्यक्ष के बीच कोई फर्क नहीं है।

सिद्धू ने कहा कि, 'एक सामान्य पार्टी कार्यकर्ता और राज्य इकाई अध्यक्ष में कोई अंतर नहीं है। पंजाब में कांग्रेस का हर कार्यकर्ता आज से पार्टी की राज्य इकाई का अध्यक्ष बन गया है।' कार्यक्रम के दौरान सीएम अमरिंदर ने भी पंजाब कांग्रेस में जारी खींचतान पर पूर्ण विराम लगा दिया। अमरिंदर ने कहा कि, ‘हमें पंजाब में कांग्रेस पार्टी को मजबूत करना है। मैं इस स्तर से सभी लोगों से कह रहा हूं कि हमें सिद्धू का समर्थन करना है और पंजाब के लिए मिलकर कार्य करना है।'

शुवेंदु अधिकारी ने कोलकाता HC में जुर्म के खिलाफ मांगी CBI की जांच

मोटुपल्ली नरसिम्हुलु ने पार्टी से दिया इस्तीफ़ा

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच फिलीपींस ने बढ़ाया यात्रा प्रतिबंध

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -