सैनिकों को सोशल मीडिया का इस्तेमाल करने से नहीं रोक सकते- जनरल बिपिन रावत

Sep 04 2018 04:22 PM
सैनिकों को सोशल मीडिया का इस्तेमाल करने से नहीं रोक सकते- जनरल बिपिन रावत

नई दिल्ली: भारतीय सेना के प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने जवानों के सोशल मीडिया इस्तेमाल को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि  'हमें सलाह मिली है कि हमें अपने सैनिकों को सोशल मीडिया से दूर रहने की सलाह देनी चाहिए, लेकिन क्या आप एक सैनिक को स्मार्ट फोन से वंचित कर सकते हैं. यदि आप स्मार्टफोन के उपयोग को रोक नहीं सकते हैं, तो इसे अनुमति देना ही सबसे अच्छा है, लेकिन महत्वपूर्ण ये है कि इसका उपयोग किस तरह किया जा रहा है. 

उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया उपयोग करने के लिए है, इसलिए सैनिक सोशल मीडिया का उपयोग करेंगे. हमारा विरोधी भी मनोवैज्ञानिक युद्ध और धोखे के लिए सोशल मीडिया का उपयोग करेगा, इसलिए हमें भी इसे अपने लाभ के लिए उपयोग करना होगा. जनरल रावत ने कहा कि आज के समय में जंग की रणनीति के लिहाज से सूचना युद्ध महत्वपूर्ण है और इसके तहत हमने आर्टिफिशल इंटेलिजेंस (AI) के बारे में बात करना शुरू कर दिया है. अगर हमे आर्टिफिशल इंटेलिजेंस का लाभ उठाना है तो हमे सोशल मीडिया से जुड़ना होगा.

तेजबहादुर के वीडियो से मचा था बवाल 
आपको बता दें कि कुछ महीनों पहले सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा था जिसमे बीएसएफ में कॉन्‍स्‍टेबल रहे तेजबहादुर यादव ने  सेना में मिलने वाले भोजन की गुणवत्ता के बारे में सवाल उठाया था,  यादव ने वीडियो में खाली हल्दी और नमक वाली दाल और साथ में जली हुई रोटियां दिखाते हुए पूछा था कि क्या देश की रक्षा के लिए खड़े रहने वाले जवानों को यही भोजन मिलना चाहिए, जिसके बाद उनसे सेना से बर्खास्त कर दिया गया था. इसके बाद से सैनिकों द्वारा सोशल मीडिया के इस्तेमाल पर रोक लगाने के लिए चर्चाएं होने लगी थी. 


खबरें और भी:-

स्वच्छता सुविधाएं के मामले में भारत के स्कूलों में हो रही तेज़ तरक्की

ऑल स्टेट कश्मीरी पंडित कॉन्फ्रेंस का सरकार पर इल्ज़ाम

कारगिल चुनाव : बीजेपी का पहली बार खुला खाता, जानें किस पार्टी को बहुमत मिला

 

?