झारखंड विधानसभा में नमाज़ पढ़ने के लिए अलग से कमरा.., जुमे के दिन आधे घंटे स्थगित रहती है कार्यवाही

रांची: झारखंड के नए विधानसभा भवन में मुस्लिमों के लिए नमाज पढ़ने के लिए अलग से कमरा आवंटित किए जाना का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) MLA विरंची नारायण ने मुस्लिम सदस्यों के लिए नमाज पढ़ने के लिए कमरा आवंटित किए जाने के बाद से अलग-अलग धर्मों के लिए भी कमरा आवंटित करने की मांग की है.

भाजपा MLA विरंची नारायण की मांग है कि विधानसभा में हिंदुओं और अन्य धार्मिक समुदायों के लिए कमरे आवंटित किए जाएं. उन्होंने कहा है कि हिंदू, सरना, सिख, जैन और झारखंड में रहने वाले सभी धर्मों के विधायकों के लिए अलग-अलग उपासना कक्ष का प्रबंध किया जाए. इसके पीछे विरंची नारायण ने दलील दी है कि जिससे मुस्लिम धर्मावलंबियों के अलावा, दूसरे धर्मोँ के लोग भी विधानसभा में अपने-अपने मत के मुताबिक, पूजा और प्रार्थना कर सकें. अब झारखंड सरकार के सामने भाजपा MLA के मांग के बाद समस्याएं बढ़ सकती हैं. सभी के लिए अलग-अलग व्यवस्था कर पाना कठिन है.

स्पीकर रवींद्र महतो ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि इसमें कोई नई बात नहीं है. यह व्यवस्था अविभाजित बिहार के समय से लागू है. बता दें कि शुक्रवार को विधानसभा की कार्यवाही आधे घंटे पहले नमाज के लिए स्थगित कर दी जाती है.

खुल गया ममता बनर्जी के विधानसभा पहुँचने का रास्ता, बंगाल की 3 सीटों पर होंगे उपचुनाव

'राहुल-सोनिया के खिलाफ चल रहे भ्रष्टाचार के मुकदमों में हो रही देरी..', स्वामी का पीएम मोदी को पत्र

Video: डूब रही दिल्ली और 'साधना' में लगे हुए CM, आक्रोशित लोगों ने लगाए 'केजरीवाल हाय-हाय' के नारे

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -