टिकिट कटने पर गुस्से से लाल हुए बीजेपी विधायक, कह दी इतनी बड़ी बात

Nov 03 2018 12:39 PM
टिकिट कटने पर गुस्से से लाल हुए बीजेपी विधायक, कह दी इतनी बड़ी बात

भोपाल। मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने शुक्रवार को 177 उम्मीदवारों की लिस्ट  जारी कर दी। इस लिस्ट में कई बड़े नेताओं का नाम शामिल नहीं किया गया है, जबकि कुछ नए चेहरों को लिस्ट में जगह दी गई है। भाजपा के कई नेता ​लिस्ट में अपना नाम कटने से भड़के हुए हैं, तो कुछ नेताओं ने तो नाम कटने पर पार्टी को ही खरी—खोटी सुना दी। 

पिछले चुनाव में हारने वाले सात विधायकों पर बीजेपी ने इस बार भी लगाया दांव

खबरों के अनुसार शुक्रवार को जारी लिस्ट में रतलाम ग्रामीण विधानसभा सीट से वहां के दिग्गज नेता और भाजपा विधायक मथुरा लाल डामर को टिकिट नहीं दिया गया है। उनकी जगह पार्टी ने दिलीप मकवाना को अपना प्रत्याशीा बनाया है। जब लिस्ट में  अपना नाम आने पर ​दिलीप मकवाना, मथुरा लाल डामर के घर आशीर्वाद लेने गए, तो मथुरा लाल डामर ने गुस्से में उन्हें  खूब खरी—खोटी सुनाई और वापस लौटा दिया। डामर ने मकवाना से कहा कि तुम कार्यकर्ता नहीं, बल्कि कर्मचारी हो और डेढ़ करोड़ रुपये देकर तुमने टिकिट पाया है। भाजपा पार्टी  तो कार्यकर्ता को टिकिट देने की बात करती है, लेकिन कार्यकर्ता का टिकिट काटकर कर्मचारी को टिकिट दे रही है। 

चुनाव से पहले राजस्थान में योगी की धर्मसभा, विरोधियों पर करेंगे प्रहार

इसके  साथ ही ऐसी भी खबरें आ रही हैं कि आगर मालवा—सुसनेर विधानसभा सीट से भाजपा के पूर्व विधायक संतोष जोशी को भी टिकिट नहीं दिया गया है। टिकिट न मिलने से भड़के संतोष जोशी ने निर्दलीय चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी है। उनकी इस घोषणा से बीजेपी में हड़कंप मच गया है। ऐसी आशंका  जताई जा रही है कि टिकिट न मिलने से नाराज भाजपा के अन्य नेता भी ​बगावत का बिगूल फूंक सकते हैं। 

खबरें और भी

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव 2018: बीजेपी ने जारी की उम्मीदवारों की लिस्ट

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव 2018: कांग्रेस आज जारी कर सकती है उम्मीदवारों की पहली लिस्ट

छत्तीसगढ़ चुनाव 2018: चुनाव की तैयारियाँ तेज, 72 उम्मीदवारों ने एकसाथ दाखिल किया पर्चा