बिजली गिरने से टूट जाती है यहां की शिवलिंग फिर इस तरह जुड़ती है

Aug 10 2018 02:07 PM
बिजली गिरने से टूट जाती है यहां की शिवलिंग फिर इस तरह जुड़ती है

सावन का महीना चल रहा है और ऐसे में भगवान शिव के कई मंदिर हैं जहाँ पर अभिषेक किया जा रहा है और भगवान शिव की आराधना की जा रही है. देशभर में कई मंदिर हैं जो रहस्यों से भरे होते हैं आज एक और ऐसे ही मंदिर के बारे में हम बताने जा रहे हैं जिसके बारे में जानकर आप भी हैरान रह जायेंगे. ये मंदिर हिमालय की गोद में बसा है जहाँ आने के लिए लोग काफी मशक्कत करते हैं. आइये जानते हैं इसके कुछ रहस्य.

लुका छिपी करता है ये अनोखा महादेव मंदिर

दरअसल, ये मंदिर देव भूमि हिमाचल में स्‍थापित है. यह मंदिर हिमाचल के कुल्‍लू घाटी में व्यास नदी के किनारे बसा हुआ है जिसका नाम बिजली महादेव मंदिर है. इस मंदिर के बारे में कुछ ऐसी बातें सामने आती हैं कि आकाशीय बिजली गिरने से इस मंदिर की शिवलिंग टूट जाती है जिसे फिर से जोड़ा जाता है. जी हाँ, ऐसा हर 12 साल में होता है और फिर से मजबूती के साथ जुड़ जाती है. इस पर कहा जाता है कि जब ये शिवलिंग टूटती है तो पुजारी मक्‍खन से जोड़ते हैं. सिर्फ इतना ही करने से शिवलिंग फिर से जुड़ जाता है. ये बिजली हर सावन के महीने में गिरती है.

सावन शिवरात्रि पर है पूरे दिन का शुभ मुहूर्त, कभी भी करें पूजा

बिजली गिरने से मंदिर के साथ-साथ पूरे गांव को नुकसान होता है लेकिन गाँव भी शिव जी की कृपा से सब ठीक हो जाता है. ये मंजर बहुत ही अजब होता है. और अनोखा जो कहीं और देखने को नहीं मिलता.

यह भी पढ़ें..

सावन शिवरात्रि के दौरान न करें ये गलतियां

सावन शिवरात्रि: मनोकामना पूर्ति के लिए मंदिरों में जुटे शिवभक्त