पाकिस्तान को बड़ा झटका, इंटरनेशनल ट्रिब्यून ने लगाया 580 करोड़ डॉलर का जुर्माना

इस्लामाबाद: पाकिस्तान की आर्थिक स्थिति दुनिया से छिपी नहीं है। पाकिस्तान अपनी जरूरतों के लिए अमूमन वर्ल्ड बैंक और IMF के अलावा अन्य देशों से आर्थिक सहायता के लिए गुहार लगाता रहता है और उनके आगे हाथ फैलाता रहता है। अब पाकिस्तान कि इकॉनमी को बड़ा झटका देने वाली एक खबर सामने आ रही है।

उल्लेखनीय है कि, इंटरनेशनल ट्रिब्यून ने पाकिस्तान पर 5.8 बिलियन डॉलर यानी 580 करोड़ डॉलर का जुर्माना ठोंक दिया है। ये जुर्माना पाकिस्तान की GDP के दो फीसदी के बराबर है। इंटरनेशनल ट्रिब्यून ने पाकिस्तान पर ये जुर्माना ऑस्ट्रेलियाई कंपनी का खनन पट्टा निरस्त करने को लेकर लगाया है। पाकिस्तान की सरकार ने बलूचिस्तान में टेथ्यान कॉपर कॉर्प नामक कंपनी को लीज पर माइनिंग की अनुमति दी थी, किन्तु इस खनन पट्टे को पाक ने निरस्त कर दिया। पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत का रेको डीक जिला सोने और तांबे समेत दूसरी अन्य खनिज संपदा के लिए मशहूर है।

बता दें कि पाकिस्तान की इमरान सरकार ने टेथयॉन कॉपर कंपनी को दिए गए खनन पट्टे को निरस्त कर दिया था, जिसके कारण पाकिस्तान पर यह जुर्माना लगाया गया है। टेथयॉन कॉपर में बैरिक गोल्ड कारपोरेशन ऑफ ऑस्ट्रेलिया और चिली की एंटोफगस्टो PLC की बराबर की पार्टनरशिप है। पाकिस्तान ने व‌र्ल्ड बैंक इंटरनेशनल सेंटर फॉर सेटलमेंट ऑफ इंवेस्टमेंट डिस्प्यूट से जुर्माना न वसूलने की गुजारिश की है, जिस पर मंथन जारी है।

दुनियाभर में कोरोना ने मचाया आतंक, अब तक सामने आए इतने केस

न्यूज़ीलैण्ड में कोरोना संक्रमण का हुआ विस्फोट, बढ़ने लगी मरीजों की संख्या

पाक में फिर से कोरोना से नए केस, नहीं थम रहा वायरस का कहर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -