रविदास मंदिर को लेकर भीम आर्मी का विरोध प्रदर्शन, पार्टी प्रमुख चंद्रशेखर समेत 91 गिरफ्तार

रविदास मंदिर को लेकर भीम आर्मी का विरोध प्रदर्शन, पार्टी प्रमुख चंद्रशेखर समेत 91 गिरफ्तार

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के तुगलकाबाद में बुधवार रात हुई हिंसा में अब तक 91 लोगों को हिरासत में किया जा चुका है। इसमें भीम आर्मी के प्रमुख चन्द्रशेखर आजाद उर्फ रावण भी शामिल हैं। गुरुवार सुबह पूरे इलाका छावनी में तब्दील हो गया है। दिल्ली पुलिस के जवानों के साथ पूरे क्षेत्र पैरामिलिट्री फोर्स को भी तैनात किया गया। तुगलकाबाद हिंसा के दौरान बुधवार रात 15 से ज्यादा पुलिसकर्मी घायल हो गए थे और दर्जनों वाहनों में तोड़-फोड़ की गई थी। 

पुलिस ने गिरफ्तार सभी 91 आरोपियों पर दंगा फैलाना, सरकारी और निजी संपत्ति को क्षति पहुंचाने का केस दर्ज किया है। सभी आरोपियों को आज साकेत कोर्ट में पेश किया गया जाएगा। तुगलकाबाद इलाके में संत रविदास मंदिर तोड़े जाने के खिलाफ बुधवार शाम दलित समाज के लोगों ने रामलीला मैदान में जमकर विरोध प्रदर्शन किया। इस आंदोलन में दलित समुदाय के नेता और भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर मौजूद थे। इस अवसर पर दिल्ली सरकार के मंत्री राजेंद्र पाल गौतम भी उपस्थित थे। इस विरोध प्रदर्शन में पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और उत्तर प्रदेश से बड़ी संख्या में दलित समुदाय के लोग शामिल हुए।

इसके बाद कई घंटे तक काफी हंगामा हुआ। रामलीला मैदान में रैली के बाद हजारों की तादाद में दलित समुदाय के लोग तुगलकाबाद पहुंचे और पत्थरबाजी करना शुरू कर दी। हिंसा के दौरान 15 पुलिसकर्मी सहित दर्जनभर लोग जख्मी हो गए। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने लाठी चार्ज का सहारा लिया और कई राउंड हवाई फायरिंग की। किन्तु जब स्थिति नहीं सुधरी तो गिरफ्तारियां की गई।

6 महीने बाद मिग-21 के कॉकपिट में वापस लौटे पाक को धुल चटाने वाले अभिनन्दन

चिदंबरम की गिरफ़्तारी पर नकवी का तंज, कहा- भ्रष्टाचार और कांग्रेस एक दूसरे के पूरक

अब स्कूलों के पाठ्यक्रम में शामिल होंगे राजीव गाँधी, छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार ने शुरू की तैयारी