इस फिल्म से मिली बप्पी दा को कामयाबी

By Nikki Chouhan
Nov 27 2020 03:03 AM
इस फिल्म से मिली बप्पी दा को कामयाबी

जाने माने मशहूर गायक बप्‍पी लाहिड़ी जिनका असली नाम अलोकेश लाहिड़ी है का आज जन्मदिन है। बप्‍पी लाहिड़ी जन्‍म 27 नवंबर 1952 को जलपैगुड़ी पश्चिम बंगाल में हुआ था। इनके पिता का नाम अपरेश लाहिड़ी तथा मां का नाम बन्‍सारी लाहिड़ी है। बप्‍पी लाहिड़ी ने मात्र तीन साल की आयु में ही तबला बजाना आरम्भ कर दिया था जिसे बाद में उनके पिता के द्वारा और भी गुर सिखाये गये। 

बॉलीवुड को रॉक तथा डिस्को से रू-ब-रू कराकर पूरे देश को अपनी धुनों पर थिरकाने वाले लोकप्रिय संगीतकार तथा गायक बप्पी लाहिड़ी ने कई बड़ी छोटी फिल्‍मों में काम किया है। बप्पी दा ने 80 के दशक में बालीवुड को यादगार गानों की सौगात दे कर अपनी पहचान बनाई। सिर्फ 17 वर्ष की उम्र से ही बप्पी संगीतकार बनना चाहते थे और उनकी प्रेरणा बने एसडी बर्मन। बप्पी टीनएज में एसडी बर्मन के गानों को सुना करते तथा उन्हें रियाज किया करते थे। 

वही जिस दौर में लोग रोमांटिक संगीत सुनना पसंद करते थे उस समय बप्पी ने बॉलीवुड में 'डिस्को डांस' को इंट्रोड्यूस करवाया। उन्हें अपना प्रथम अवसर एक बंगाली फ़िल्म, दादू (1972) तथा पहली हिंदी फ़िल्म नन्हा शिकारी (1973) में मिला, जिसके लिए उन्होंने संगीत दिया था। जिस मूवी ने उन्हें बॉलीवुड में स्थापित किया, वह ताहिर हुसैन की हिंदी फ़िल्म ज़ख़्मी (1975) थी, जिसके लिए उन्होंने संगीत की रचना की तथा पार्श्व गायक के तौर पर दोगुनी कमाई की। साथ ही इस फिल्म ने उन्हें प्रसिद्धि की ऊंचाइयों पर पहुंचाया और हिंदी फिल्म उद्योग में एक नए युग को आगे लाया। इसके पश्चात् तो वे फिल्‍म दर फिल्‍म बुलंदियों को छूते गये तथा  बॉलीवुड में अपना नाम बड़े कलाकार के रूप में प्रतिष्ठित किया। बप्‍पी लाहिड़ी प्रसिद्ध गायक होने के साथ म्‍यूजिक डायरेक्‍टर, अभिनेता और रिकॉर्ड प्रोड्यूसर भी हैं। 

सामने आया 'कुली न।1' का मजेदार पोस्टर, 5 अलग-अलग किरदारों में नज़र आए वरुण धवन

जलीकट्टू बनी ऑस्कर की ऑफ़िशियल एंट्री, कंगना ने सुना दी बॉलीवुड को खरी-खोटी

पिता संग शिबानी की तस्वीर देख बेटी अकीरा ने किया यह कमेंट