हैरतंअगेज! कचरा उठाने गए कर्मी को डस्टबिन में मिली ऐसी चीज, देखकर उड़ गए होश

इंदौर: मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में बाल विद्या मंदिर के पास नगर निगम के डस्टबिन में दो जुड़वां बच्चों के शव मिले हैं। सफाइकर्मी जब डस्टबिन खाली करने पहुंचा तो उसे शव पॉलीथिन में बंद प्राप्त हुए। शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए जिला चिकित्सालय भेजा गया है। चंदन नगर टीआई अभय नेमा के मुताबिक, दोनों नवजात को योजनाबद्ध तरीके से लाकर यहां फेंका गया है। इसमें दो या तीन से अधिक व्यक्तियों के सम्मिलित होने का अनुमान है।

प्रातः नगर निगम की कचरा गाड़ी रोज की भांति डस्टबिन से कचरा उठाने धार रोड पहुंची। इस के चलते निगमकर्मी को एक पॉलीथिन में कुछ भारीपन लगा। उसने खोल कर देखा तो दंग रह गए। थैली में दो मृत नवजात थे। उसने नगर निगम कंट्रोल रूम को इसकी तहरीर दी। तत्पश्चात, चंदन नगर पुलिस मौके पर पहुंची। नवजातों में एक लड़का एवं एक लड़की थी। पुलिस ने दोनों शवों को चिकित्सालय भेजा। पुलिस ने आशंका व्यक्त की है कि रात को इन बच्चों को फेंका गया। पुलिस टिम्बर मार्केट तथा आसपास के CCTV फुटेज खंगाल रही है।

वही एक अनुमान के अनुसार, इंदौर में प्रत्येक वर्ष ऐसे 40-50 मामले होते हैं। जिनमें नवजात को झाड़ियों, कचरे या सुनसान स्थान पर मिले। PCPNDT विभाग द्वारा प्रत्येक सरकारी, निजी चिकित्सालय, सोनोग्राफी सेंटरों से नियमित रिपोर्ट मंगाने, मशीनों में ट्रेकर लगाने के साथ मॉनिटरिंग की जा रही है। इसके चलते अबॉर्शन के मामले तकरीबन बंद हो गए हैं। सिर्फ स्पेशल मामलों में ही उच्च न्यायालय के आदेश के बाद इसकी इजाजत दी जाती है। हालांकि लिव इन रिलेशन के मामले तेजी से बढ़ने से, ऐसे मामले फिर सामने आने लगे हैं। हाल ही में लिव इन में रहने के समय लड़का-लड़की ने नवजात को अपनाने से मना कर दिया था। फिर उसे एक संस्था में रखा गया है।

विदेश में भी राहुल गांधी ने करवा ली अपनी किरकिरी, भारत विरोधी बात कहने पर मिला करारा जवाब, Video

टोक्यो क्वाड शिखर सम्मेलन में भाग लेने के बाद नई दिल्ली पहुंचे पीएम मोदी

इंडियन ग्रांप्री 4 में Nayna James ने एंसी सोजन को पछाड़कर जीता लॉन्ग जम्प का खिताब

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -