श्राद्ध में इन रूपों में आते हैं पितर, भूलकर भी घर से ना भगाएं

श्राद्ध में इन रूपों में आते हैं पितर, भूलकर भी घर से ना भगाएं
Share:

29 सितंबर से पितृ पक्ष का आरम्भ हो चुका है तथा इस के चलते पूर्वजों को याद करके उनके नाम का अनुष्ठान एवं तर्पण किया जाता है। ऐसा कहा जाता है कि श्राद्ध पक्ष में पितर धरती पर आते हैं। माना जाता है कि पितृ पक्ष में पितरों का संबंध प्रकृति से भी होता है। पितृ पक्ष में इंसान से लेकर पक्षी तक कई रूपों में पितर आपके द्वार पर आ सकते हैं। बस हम उन्हें पहचान नहीं पाते हैं। आइये आपको बताते हैं कि पितृ पक्ष में पितर आपके घर में किन किन रूपों में आ सकते हैं। 

* कौए- पितृ पक्ष में घर आए कौए को कभी भगाए नहीं बल्कि कौए को भोजन दें। ऐसा नहीं करने पर पितर नाराज हो सकते हैं। धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक, श्राद्ध पक्ष में 15 दिन तक कौए के द्वारा ही पितर अन्न ग्रहण करते हैं। इससे न केवल वो तृप्त होते हैं बल्कि अपने परिजनों को खुशहाल जीवन का आशीर्वाद देते हैं।
* गरीब या जरूरतमंद- पितृ पक्ष के समय यदि घर में कोई मेहमान, गरीब एवं असहाय व्यक्ति द्वार पर आए तो उसका कभी अनादर न करें। बल्कि इनके लिए भोजन की व्यवस्था करें। 
* कुत्ता या गाय- श्राद्ध पक्ष में गाय और कुत्ते का द्वार पर आना बहुत शुभ माना जाता है। यदि ये रास्ते में भी दिख जाए तो इन्हें मारकर भी नहीं भगाना चाहिए। कुछ न कुछ खाने को अवश्य दें।  

जितिया व्रत पर अपनाएं ये उपाय, घर में होगी धनवर्षा

जानिए कैसे शुरू हुआ जितिया व्रत?

शारदीय नवरात्रि से पहले ऐसे चमकाएं घर का मंदिर

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -