बारिश की तैयारियों को लेकर अमित शाह ने ली अहम बैठक

नई दिल्ली: आज दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने मानसून सीजन की व्यवस्थाओं को लेकर एक बैठक की। इस बैठक में कई मंत्री सहित बड़े अफसर भी उपस्थित रहे। इससे पूर्व सोमवार को भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने पूर्वानुमान में बताया है कि उत्तर भारत के कई भागों को अभी मानसून के लिए थोड़ा और प्रतीक्षा करना पड़ेगी, क्योंकि नजदीक आ रही पछुआ हवा के कारण उसकी गति धीमी हो सकती है।

मौसम विभाग ने इससे पूर्व पूर्वानुमान में बताया था कि दक्षिण-पश्चिम मानसून के 15 जून तक राष्ट्रीय राजधानी पहुंचने की संभावना है। सामान्य रूप से दिल्ली में मानसून 27 जून तक पहुंचता है तथा ये 8 जुलाई तक पूरे भारत में अपना असर दिखाने लगता है। आईएमडी महानिदेशक मृत्युंजय महापात्रा ने बताया कि लेकिन वर्तमान हालात में इसकी संभावना नहीं है। हालांकि राजधानी में मंगलवार तथा बुधवार को हल्की से मध्यम वर्षा हो सकती है।

मौसम विभाग ने बताया कि मानसून का उत्तरी छोर का असर दीव, सूरत, नंदुरबार, भोपाल, नौगोंग, हमीरपुर, बाराबंकी, बरेली, सहारनपुर, अंबाला तथा अमृतसर में बना हुआ है। दक्षिण पश्चिम मानसून अब तक पूरे प्रायद्वीप (दक्षिणभारत) पूर्वी मध्य एवं पूर्वी एवं उत्तरपूर्वी भारत तथा उत्तर पश्चिम भारत के कुछ भागों में पहुंचा है। वहां बगैर किसी रुकावट के एक्टिव मानसून परिसंचरण एवं निम्न दबाव का क्षेत्र एक्टिव है, मगर नजदीक आती मध्य अक्षांशीय पछुआ हवा की वजह से उत्तर पश्चिम भारत के शेष भागों में मानसून धीमा होने की संभावना है।

पंजाब सीएम अमरिंदर सिंह के आवास के बाहर शिअद का विरोध प्रदर्शन, राज्य सरकार से की यह मांग

सपा के शीर्ष नेतृत्व से मिले बसपा विधायक, हो सकते है पार्टी में शामिल

आम आदमी पार्टी के संजय सिंह ने लगाया घर पर हमले का इलज़ाम, नेमप्लेट पर पोती कालिख

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -