रुपिंदर पाल सिंह के बाद बीरेंद्र लाकड़ा ने भी हॉकी को कहा अलविदा

नई दिल्ली: Tokyo Olympics-2020 में चार दशक बाद मेडल जीतने वाली भारतीय पुरुष हॉकी टीम के प्लेयर बीरेंद्र लाकड़ा (Birendra Lakra) ने हॉकी से संन्यास लेने का ऐलान कर दिया है. बीरेंद्र से पहले आज के ही दिन यानी गुरुवार को देश के बेहतरीन ड्रैग फ्लिकर रुपिंदर पाल सिंह ने भी संन्यास की घोषणा की थी. 

बता दें कि लाकड़ा ने टीम इंडिया के लिए 201 मैच खेले हैं. हॉकी इंडिया ने ट्वीट के जरिए बीरेंद्र लाकड़ा के संन्यास लेने के बारे में जानकारी दी है. HI ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए लिखा है कि, 'एक बेहतरीन डिफेंडर और भारत पुरुष हॉकी टीम के मजबूत सदस्य, ओडिशा के स्टार ने भारत की राष्ट्रीय टीम से संन्यास लेने का निर्णय लिया है. हैप्पी रिटायरमेंट बीरेंद्र लाकड़ा.'

ओडिशा के राउरकेला के निवासी बीरेंद्र लाकड़ा ने अपने हॉकी करियर की शुरुआत सेल हॉकी अकादमी से की. अपने ही राज्य के दिलीप टर्की को अपना आदर्श मानने वाले लाकड़ा ने दिलीप को देखकर ही हॉकी के गुर सीखे थे. वह 2009 में FIH जूनियर विश्व कप के लिए सिंगापुर गई टीम इंडिया का हिस्सा रहे थे. उन्होंने पहली दफा 2007 में जूनियर टीम में कदम रखा था. जूनियर स्तर पर अपने प्रदर्शन से निरंतर प्रभावित कर रहे लाकड़ा को अंततः सीनियर टीम में स्थान मिला था.

IPL 2021: हर्षल पटेल ने रचा इतिहास, बने ये कारनामा करने वाले RCB के पहले गेंदबाज़

'अरे मैं वो अमरिंदर सिंह नहीं हूँ...', फुटबॉल टीम के गोलकीपर ने सोशल मीडिया पर जोड़े हाथ

IPL 2021: राजस्थान के खिलाफ मैक्सवेल ने जड़ी शानदार फिफ्टी, वायरल हुआ एलन मस्क का ट्वीट

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -