भारतीय हॉकी टीम के इस खिलाड़ी पर लगा दुष्कर्म का आरोप, जानिए क्या है मामला
भारतीय हॉकी टीम के इस खिलाड़ी पर लगा दुष्कर्म का आरोप, जानिए क्या है मामला
Share:

भारतीय हॉकी टीम के डिफेंडर वरुण कुमार के विरुद्ध एक नाबालिग लड़की के साथ रेप का केस सुनने के लिए मिला है. पीड़ित लड़की ने इस संबंध में बंगलुरू के ज्ञानभारती थाने में केस भी दायर कर चुका है. इल्जाम लगाया है कि वरुण कुमार ने करीब 5 वर्ष पहले उसके संपर्क में आए और फिर शादी का झांसा देते हुए उसके साथ बलात्कार किया करता था. पीड़िता खुद वॉलीबॉल प्लेयर है और वह वारदात के वक्त एक हॉस्टल में रहकर प्रैक्टिस करने में लगी हुई थी. पुलिस ने इस केस में दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट की धाराओं में केस दर्ज कर मामले की छानबीन भी शुरू कर दी गई है.

पीड़िता ने पुलिस को दिए शिकायत में कहा है कि यह वारदात वर्ष 2016-17 की है. उन दिनों उसका चयन नेशनल सेंटर ऑफ एक्सीलेंस की ओर से वॉलीबॉल खेल के लिए भी हुआ था. ऐसे में वह भारतीय खेल प्राधिकरण के साउथ डिवीजन में प्रशिक्षण ले रही थी.इसके लिए वह ज्ञानभारती थाना इलाके में ही एक हॉस्टल में निवास करती थी. उन्हीं दिनों उसकी पहचान वरुण कुमार से हुई. यह मुलाकात धीरे धीरे दोस्ती में और फिर प्यार में बदल गई. उन दिनों वरुण ने उसे झांसा दिया कि जल्द ही वह अपने घरवालों से बातचीत कर उसके साथ विवाह कर लेंगे.

शादी का झांसा देकर रेप: उन दिनों वह मात्र 17 वर्ष की ही थी, बावजूद इसके वरुण ने उसे झांसे में लेकर कई बार दुष्कर्म भी किया. पीड़िता ने कहा है कि वर्ष 2019 में खाना खाने के बहाने एक बार वरुण उसे जयनगर ले गए, जहां उसके साथ शारीरिक संबंध बनाया. वहीं एक वर्ष पहले जब उसके पिता की मृत्यु हो गई तो भी वह उसके घर आए और सांत्वना दी. साथ ही विश्वास  दिलाया है कि वह जल्द शादी कर लेंगे. लेकिन अब अपने वादे से मुकर गए हैं. हालांकि अपने संबंध दोबारा से ठीक करने के बहुत प्रयासों के उपरांत भी जब सफलता नहीं मिली तो पीड़िता ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है.

हिमाचल प्रदेश के रहने वाले हैं वरुण: खबरों का कहना है कि भारतीय हॉकी टीम के डिफेंडर वरुण कुमार मूल रूप से हिमाचल प्रदेश के रहने वाले हैं. उन्होंने हॉकी में अपने कैरियर की शुरुआत पंजाब से की और वर्ष 2017 से ही वह इंडियन टीम के लिए खेलने लगे. वरुण को वर्ष 2022 में बर्मिंघम-कॉमनवेल्थ गेम्स में रजत पदक से भी सम्मानित किया गया था. वहीं वर्ष 2022 में एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली टीम में शामिल थे. वरुण ने वर्ष 2020 में टोक्यो ओलंपिक में इंडिया की कांस्य पदक दिलाया था. इस उपलब्धि पर हिमाचल सरकार ने उन्हें एक करोड़ रुपये का इनाम भी दिया था. इसके बाद उन्हें वर्ष 2021 में अर्जुन पुरस्कार भी मिला.

इन दोनों विटामिनों को रोजाना लेना जरूरी है, नहीं तो आप बार-बार बीमार पड़ जाएंगे

ऐसे खाएं मखाना, ताकत भर जाएगी आपकी हड्डियां, दर्द दूर हो जाएगा, बाय-बाय

ये चीजें डैमेज करती हैं किडनी, आज ही छोड़े खाना

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
Most Popular
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -