चाची की हत्या करने के बाद थाने पहुंचा भतीजा और फिर...

रांची: झारखंड की राजधानी रांची के तमाड़ थाना इलाके में 55 वर्षीय महिला की लाठी से पीट-पीटकर हत्या कर डाली। इस क़त्ल को अंजाम उसके भतीजे ने दिया। क़त्ल करने के पश्चात् वो थाने पहुंचा तथा स्वयं को पुलिस के सामने आत्मसमर्पण कर दिया। हत्या की खबर प्राप्त होते ही पुलिस मौके पर पहुंची एवं शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज मामले की तहकीकात आरम्भ की। अपराधी ने पुलिस को कहा कि डायन होने के आरोप में उसने अपनी चाची का क़त्ल किया है। यह घटना के बारेड़ीह गांव में हुई।  

मिल रही खबर के अनुसार, मृतक सरला देवी गोबर फेंककर अपने घर आ रही थी। रास्ते में पहले से घात लगाए बैठे भतीजे जयदेव स्वांसी ने मौका देखते ही चाची पर अटैक कर दिया। चाची के सिर पर लाठी से कई हमले किए, जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई। घटना स्थल से मृतिका का घर कुछ ही दूरी पर था, जैसे ही इसकी जानकारी महिला के पति को लगी वो तत्काल ही उसे बचाने के लिए दौड़ा। मगर अपराधी भतीजे ने उस पर भी डंडे से हमला करने का प्रयास किया। फिर सहायता मांगने गांव की तरफ दौड़ा तथा ग्रामीणों को इसकी खबर दी। 

मृतक महिला का बेटा रांची में मजदूरी करता है। खबर पर जब वो गांव पहुंचा तो मां को लहूलुहान स्थिति में देखकर बेहोश हो गया। इस घटना पर ग्रामीण एसपी रांची नौशाद आलम ने बताया कि अपराधी जयदेव स्वांसी ने पुलिस से डर कर सीधे तमाड़ थाने पहुंचा तथा अपना जुर्म कबूल कर पुलिस के सामने स्वयं को आत्मसमर्पण कर दिया। अपराधी के खिलाफ 302/34 और 3/4 डायन बिसाही अधिनियम के तहत FIR दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया। ग्रामीण एसपी रांची नौशाद ने बताया कि गांवों में डायन बिसाही के मामलों में वृद्धि देखी गई है। हाल ही में एक ऐसी ही ट्रिपल मर्डर की घटना सामने आई थी। इसके लिए गांव के लोगों को जागरूक करने की आवश्यकता है। जिससे इस तरह के मामलों पर लगाम लगाई जा सके। पुलिस अब तंत्र-मंत्र करने वाले व्यक्तियों के खिलाफ अभियान चलाएगी। जो भोले भाले लोगों को इस प्रकार के कामों के लिए भड़काते हैं।  

ड्रग्स तस्करी करने वाले चार बदमाश पुलिस की गिरफ्त में

राष्ट्रीय लता मंगेशकर सम्मान व अलंकरण समारोह में नौनिहालों ने दी प्रस्तुति

सम्राट अशोक के शिलालेख पर लोगों ने बना डाली मजार

न्यूज ट्रैक वीडियो

Most Popular

- Sponsored Advert -