आखिर क्यों इस कंपनी की कार में इंजन बंद होने के बाद भी लग रही आग

फोर्ड ने अपनी गाड़ियों के इंजन में आग लगने के कई केस सामने आने के उपरांत लगभग एक लाख गाड़ियों को रिकॉल कर दिया गया है। साथ ही कार में आग लगने के खतरे को देखते हुए कंपनी ने ग्राहकों को कार को घर के बाहर पार्क करने की भी सलाह दी गई। खबरों का कहना है कि कंपनी की कुछ कारों में इंजन बंद होने पर भी शॉट सर्किट के केस देखने के लिए मिले है। 

फोर्ड ने मई माह में ही अमेरिका में फोर्ड एक्सपेडिशन और लिंकन नेविगेटर सहित लगभग 39,000 बड़ी एसयूवी को रिकॉल कर दिया है। हाल ही में 5 और कारों में आग लगने की घटनाओं के उपरांत, कंपनी ने 2021 में बने मॉडलों के तकरीबन 66,000 से अधिक वाहनों को रिकॉल लिस्ट में डाल दिया है।

Ford ने यह बताया आग लगने का कारण: मई में गाड़ियों को रिकॉल करते वक़्त फोर्ड ने साफ नहीं किया था कि कंपनी की गाड़ियों में आग किस वजह से लगी है। लेकिन, अब कंपनी ने हाल ही में हुई ताजा घटनाओं के उपरांत एक बयान जारी कर कहा कि यह आग सर्किट बोर्ड में शॉट सर्किट की वजह से लगी थी।  इन घटनाओं में अब तक सिर्फ एक व्यक्ति के जख्मी होने की खबर भी सुनने के लिए मिली है। साथ ही किसी बड़ी आगजनी या अन्य किसी घटना की कोई खबर नहीं है। 

कंपनी ने डीलर्स को दिए निर्देश: खबरों का कहना है कि सर्किट बोर्ड बैटरी जंक्शन बॉक्स का भाग होते हैं। फोर्ड ने कहा कि डीलर बॉक्स की जांच करने वाले है और अगर गड़बड़ी पाई गई, तो उसे बदलने वाले है। वे जंक्शन बॉक्स से कनेक्ट होने वाले कूलिंग फैन, ग्राउंड वायर को भी चैक करेंगे और जरूरत पड़ी तो इन्हें हटा कर नए लगा देंगे या मरम्मत करेंगे। 

इस कार की कंपनी ने ग्राहकों को दिया बड़ा झटका, एक बार में ही बढ़ा दी गाड़ियों की कीमत

आज लॉन्च की जा सकती Audi की नई कार

Video: 1-2 नहीं ऑटो में बैठे थे 27 लोग, नजारा देखकर दंग रह गई पुलिस

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -