Share:
अगर आपको ड्राइविंग करते समय भूकंप के झटके महसूस होते हैं, तो तुरंत करें ये काम
अगर आपको ड्राइविंग करते समय भूकंप के झटके महसूस होते हैं, तो तुरंत करें ये काम

जब आप गाड़ी चला रहे होते हैं, खुली सड़क पर चल रहे होते हैं, तो आखिरी चीज जो आप उम्मीद करते हैं वह है कि जमीन हिलना शुरू हो जाएगी। लेकिन भूकंप किसी भी समय आ सकता है, और गाड़ी चलाते समय ऐसी घटना के लिए तैयार रहना महत्वपूर्ण है। इस गाइड में, हम आपको गाड़ी चलाते समय भूकंप के झटके महसूस होने पर उठाए जाने वाले कदमों के बारे में बताएंगे, जिससे आपकी सुरक्षा और सड़क पर दूसरों की सुरक्षा सुनिश्चित हो सके।

1. शांत रहें और नियंत्रण रखें

आपके वाहन के नीचे ज़मीन खिसकने का शुरुआती झटका परेशान करने वाला हो सकता है, लेकिन जितना संभव हो सके शांत रहना आवश्यक है। घबराहट के कारण दुर्घटनाएं हो सकती हैं और निर्णय लेने में ग़लती हो सकती है। स्टीयरिंग व्हील को मजबूती से पकड़ें और अपनी कार पर नियंत्रण बनाए रखने पर ध्यान केंद्रित करें।

2. सुरक्षित रूप से ऊपर खींचें

यदि ऐसा करना सुरक्षित है, तो संकेत दें और सावधानी से अपने वाहन को सड़क के किनारे करें। अचानक या अचानक रुकने से बचें, क्योंकि इससे दुर्घटनाएं हो सकती हैं या अन्य वाहनों से टक्कर हो सकती है। अपने इरादों के बारे में अन्य ड्राइवरों को सचेत करने के लिए अपने टर्न सिग्नल का उपयोग करें।

3. ओवरपास और पुलों के नीचे रुकने से बचें

गाड़ी चलाते समय, ओवरपास, पुल, या किसी भी संरचना के नीचे रुकने से बचने का सचेत प्रयास करें जो भूकंप के दौरान ढह सकती है। ये क्षेत्र महत्वपूर्ण जोखिम पैदा करते हैं, क्योंकि मलबा गिरने से आपके वाहन को गंभीर क्षति हो सकती है।

4. वाहन के अंदर रहें

जब तक कार के अंदर आपकी सुरक्षा को तत्काल कोई खतरा न हो, भूकंप के दौरान आपके वाहन के अंदर रहना आम तौर पर सुरक्षित होता है। आपकी कार गिरने वाली वस्तुओं और मलबे से कुछ सुरक्षा प्रदान करती है।

5. इंजन बंद करें

संभावित आग या अन्य खतरों को रोकने के लिए, अपना इंजन बंद करें और अपने वाहन को पार्क में रखें। यह कार्रवाई संभावित लंबी देरी के लिए ईंधन बचाने में भी मदद कर सकती है।

6. रेडियो या आपातकालीन अलर्ट पर ट्यून करें

अपनी कार का रेडियो चालू करें और स्थानीय समाचार या आपातकालीन प्रसारण सुनें। वे भूकंप की तीव्रता, स्थान और किसी भी सड़क के बंद होने या खतरे के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे।

7. खतरों की जाँच करें

चारों ओर देखें और किसी भी तात्कालिक खतरे के लिए अपने परिवेश का आकलन करें। बिजली लाइनों, पेड़ों और अन्य वस्तुओं से सावधान रहें जो क्षतिग्रस्त हो सकती हैं और खतरा पैदा कर सकती हैं।

8. झटके बंद होने तक अंदर रहें

भूकंप के झटके तीव्रता और अवधि में भिन्न हो सकते हैं। जब तक झटके पूरी तरह से बंद न हो जाएं, तब तक अपने वाहन के अंदर रहना जरूरी है। वाहन से तभी बाहर निकलें जब ऐसा करना सुरक्षित हो।

9. सावधानी के साथ बाहर निकलें

यदि आप अपना वाहन छोड़ने का निर्णय लेते हैं, तो सावधानी से बाहर निकलें और गिरने वाली वस्तुओं या मलबे पर नज़र रखें। ध्यान रखें कि शुरुआती भूकंप के बाद बाद के झटके भी आ सकते हैं, इसलिए सावधानी से आगे बढ़ें।

10. यदि संभव हो तो दूसरों की मदद करें

यदि आप सुरक्षित रूप से उन लोगों की सहायता कर सकते हैं जो संकट में हैं या जिन्हें सहायता की आवश्यकता है, तो ऐसा करें। अपनी सुरक्षा को प्राथमिकता देना और अपने सर्वोत्तम निर्णय का उपयोग करना याद रखें।

11. आपातकालीन निर्देशों का पालन करें

यदि स्थानीय अधिकारी निर्देश देते हैं, तो उनका तुरंत पालन करें। इसमें निकासी मार्ग, आश्रय स्थान या अन्य सुरक्षा उपाय शामिल हो सकते हैं।

12. प्रियजनों से संपर्क करें

प्रियजनों से संपर्क करने के लिए अपने फ़ोन का उपयोग करें और उन्हें बताएं कि आप सुरक्षित हैं। अपने फ़ोन की बैटरी बचाने के लिए संचार संक्षिप्त रखें।

13. आपातकालीन किट के साथ तैयार रहें

भूकंप की स्थिति के दौरान आपकी कार में आपातकालीन किट रखना अमूल्य हो सकता है। इसमें पानी, न खराब होने वाला भोजन, एक टॉर्च, कंबल और बुनियादी प्राथमिक चिकित्सा आपूर्ति शामिल होनी चाहिए।

14. अपने मार्ग का पुनर्मूल्यांकन करें

भूकंप थमने के बाद अपने मार्ग और गंतव्य का पुनर्मूल्यांकन करें। क्षति के कारण सड़क बंद होने या रास्ता बदलने के लिए तैयार रहें।

15. सावधानी से गाड़ी चलायें

ड्राइविंग तभी शुरू करें जब आप आश्वस्त हों कि ऐसा करना सुरक्षित है। भूकंप के दौरान होने वाली सड़क क्षति, मलबे और अन्य खतरों से सावधान रहें।

16. सूचित रहें

अपनी यात्रा आगे बढ़ाते समय रेडियो अपडेट सुनना और आपातकालीन अलर्ट की जांच करना जारी रखें।

17. क्षति की रिपोर्ट करें

यदि आप भूकंप के परिणामस्वरूप सड़क क्षति, खतरों या दुर्घटनाओं का सामना करते हैं, तो स्थानीय अधिकारियों या आपातकालीन सेवाओं को इसकी सूचना दें।

18. अपने वाहन की निगरानी करें

अपने वाहन के प्रदर्शन पर नज़र रखें. भूकंप से ऐसी क्षति हो सकती है जो तुरंत दिखाई नहीं देगी।

19. यदि आवश्यक हो तो आश्रय खोजें

यदि भूकंप से हुई क्षति के कारण आपका गंतव्य असुरक्षित या दुर्गम है, तो स्थिति में सुधार होने तक किसी सुरक्षित स्थान पर आश्रय लें।

20. धैर्यवान और सावधान रहें

याद रखें कि भूकंप के बाद परिणाम अराजक हो सकते हैं। धैर्य रखें, सतर्क रहें और आपातकालीन सेवाओं के मार्गदर्शन का पालन करें। इन चरणों का पालन करके, आप गाड़ी चलाते समय भूकंप आने पर अपनी सुरक्षा बढ़ा सकते हैं और जोखिम कम कर सकते हैं। ऐसी अप्रत्याशित स्थितियों में तैयार रहना और शांत रहना आपके सबसे अच्छे सहयोगी हैं।

बिजली संयंत्र और रेल प्रोजेक्ट्स, पीएम मोदी ने तेलंगाना को दी 8,000 करोड़ रुपये की सौगात

सर्दियों में बेहतर स्वास्थ्य के लिए क्या खाएं ?

क्या आप भी चाहती है चमकदार और निखरी हुई त्वचा? तो एक बार जरूर ट्राय करें ये खास फेस पैक

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -