'सपा सरकार में आतंकियों की आरती उतारी जाती थी..,' विपक्ष पर जमकर बरसे सीएम योगी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में प्रस्तावित विधानसभा चुनाव के लिए चुनाव कार्यक्रम का ऐलान अभी नहीं हुई है, लेकिन राज्य में सियासी पारा बढ़ने लगा है. जातीय समीकरण साधने के प्रयास में सियासी दलों की तरफ से जातियों के सम्मेलन आयोजित करने का सिलसिला भी जारी है. उत्तर प्रदेश में सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने शुक्रवार को चौहान जाति के लोगों का सम्मेलन आयोजित किया है, जिसमें सीएम योगी आदित्यनाथ भी शामिल हुए. 

सीएम योगी ने इस सम्मेलन में समाजवादी पार्टी (सपा) पर जमकर निशाना साधा, साथ ही कांग्रेस, बहुजन समाज पार्टी (बसपा) को भी घेरा. सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस सम्मेलन में कहा कि वर्ष 2014 के पहले लोगों के मन में UPA सरकार के लिए आक्रोश था. बाहरी और अंतरिक सुरक्षा को लेकर लापरवाही की गई थी. सीएम योगी ने कहा कि सपा सरकार के कार्यकाल में मंदिर और मठों पर आतंकी हमले होते थे, थाने और तहसील बेच दिए गए थे. सपा सरकार में दहशतगर्दों की आरती उतारी जाती थी. उन पर दर्ज मुकदमें वापस लिए जाते थे और राम भक्तों पर गोलियां चलाई थी. 

उन्होंने आगे कहा कि सपा, बसपा और कांग्रेस की सरकारों को अपने परिवार के साथ आतंकियों की चिंता रहती थी. उन्होंने आगे कहा कि राज्य में अब गुंडा, माफिया किसी की भूमि पर कब्जा नहीं कर सकते. क्योंकि अब उनकी छाती पर बुलडोजर चलता है. सीएम योगी ने कहा कि आजमगढ़ में वंदे मातम नहीं गाने दिया गया, अजीत राय की मौत पर मुझे न्याय दिलाने जाना पड़ा था. पिछड़ा वर्ग आयोग बनाने का काम हमने किया, चौहान समाज के लोग आज गवर्नर और केबिनेट मंत्री बने. उन्होंने कहा कि अपने भक्तों को गोली मारने वालों को भगवान राम कभी क्षमा नहीं करेंगे. भाजपा सरकार के कार्यकाल में भव्य राम मंदिर निर्माण हो रहा है.

हज 2022: यात्रा पर जाने वाले हर मुस्लिम को लेनी होगी कोरोना वैक्सीन के दोनों डोज़, यहाँ जानें नियम

फ्रांस के प्रधानमंत्री जीन कास्टेक्स ने विशेष मुद्रास्फीति भत्ते की घोषणा की

बिहार में कांग्रेस-राजद का ब्रेकअप ! इस पार्टी में किया अकेले चुनाव लड़ने का ऐलान

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -