बेंगलुरू पहुंचने पर अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए एक सप्ताह का क्वारंटाइन अनिवार्य है

बेंगलुरू:  ग्रामीण जिला स्वास्थ्य अधिकारी टिप्पेस्वामी ने कहा बेंगलुरु पहुंचने पर COVID-19 के लिए नकारात्मक परीक्षण करने वाले अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों को एक सप्ताह के लिए क्वारंटाइन में रखा जायेगा फिर उनका कोरोना परिक्षण किया जायेगा यदि उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आती हैं तो उन्हें क्वारंटाइन से मुक्त कर दिया जायेगा।

 उन्होंने कहा "बेंगलुरू पहुंचने पर, सभी विदेशी यात्री जो COVID-19  ​​​के लिए नकारात्मक परीक्षण करेंगे, उन्हें सात दिनों के लिए क्वारंटाइन किया जाएगा।" 7 दिन के बाद इनकी दोबारा जांच की जाएगी। सोमवार को कन्नूर इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (केआईएएल) हवाई अड्डे की जांच के बाद, "598 ऐसे यात्रियों की निगरानी में है।" 

उन्होंने कहा दक्षिण अफ्रीका से लौटे दो लोगों ने COVID-19 के लिए सकारात्मक परीक्षण किया, जिससे वैरिएंट 'ओमाइक्रोन' के बारे में आशंका पैदा हो गई। टिपेस्वामी ने स्वास्थ्य और उड्डयन विभागों के प्रमुख अधिकारियों से भी मुलाकात की। "उच्च जोखिम वाले देशों से यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए, हम हवाई अड्डे पर आरटी पीसीआर परीक्षण भी कर रहे हैं। यदि वे नकारात्मक साबित होते हैं, तो उन्हें घर पर क्वारंटाइन में रखा जाएगा। यदि यात्री सकारात्मक परीक्षण करता है, तो उन्हें एक विशेष अस्पताल में ले जाया जाएगा। अस्पताल जहां उन्हें अलग-थलग कर दिया जाएगा।”

कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री के अनुसार सोमवार को दो दक्षिण अफ्रीकी रिटर्न में से एक का नमूना "डेल्टा भिन्नता से अलग" प्रतीत होता है। विशेषज्ञों का कहना है कि ओमाइक्रोन रूप में "संबंधित" परिवर्तन होते हैं जो इसे अधिक पारगम्य और प्रतिरक्षा-रहित बना सकते हैं। हालांकि, विशेषज्ञों के अनुसार टीके एक महत्वपूर्ण उपकरण हैं।

कुरान के अपमान का आरोप, मुस्लिम भीड़ ने जला डाली 4 पुलिस चौकी और 30 कारें

पोस्टपोन हुई बॉलीवुड के इस मशहूर कपल की शादी!

पद्मश्री से सम्मानित लंगर बाबा ने दुनिया को कहा अलविदा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -