MP में घटी दिल दहला देने वाली घटना, मामला जानकर काँप उठेगी रूह

MP में घटी दिल दहला देने वाली घटना, मामला जानकर काँप उठेगी रूह
Share:

जबलपुर: मध्य प्रदेश के जबलपुर शहर से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आ रही है यहाँ एक युवक का क़त्ल कर शव आरा मशीन में काट दिया है। 52 दिन पहले लापता हुए शख्स की पुलिस ने रविवार को लाश जब्त कर ली। इस मामले में गौर करने वाली बात यह है कि मुख्य अपराधी भी खुदखुशी कर चुका है। पुलिस (Police) के मुताबिक, गुमशुदा की तलाश के चलते एक संदेही के पकड़े जाने के पश्चात् इस सनसनीखेज क़त्ल का खुलासा हुआ।

पुलिस ने बताया कि अपराधियों ने शव को एक टाल में ले जाकर आरा मशीन से काटकर उसके 10 से ज्यादा टुकड़े किए। तत्पश्चात, उन्हें बोरे में भरकर संजीवनी नगर स्थित 90 क्वार्टर के पास एक नाले में फेंक दिया था। पुलिस को बोरे में कुल 8 टुकड़े मिले हैं, जबकि सीने व पेट का हिस्सा अभी बरामद नहीं हुआ है। पुलिस ने पोस्टमार्टम कराने के पश्चात् रविवार की शाम शव परिजनों के हवाले कर दिया। फिर परिजन शव लेकर गाडरवारा रवाना हो गए हैं। CSP प्रतिष्ठा राठौर ने बताया, संजीवनी नगर थानांतर्गत धनवंतरी नगर जसूजा सिटी फेज-1 में रहने वाला अनुपम शर्मा (31 वर्ष) शेयर ट्रेडिंग का काम करता था। वह मूलतः नरसिंहपुर जिले के गाडरवारा से यहां आकर कामकाज करता था। अनुपम शर्मा 16 फरवरी को घर से निकला था मगर उसके पश्चात् वह फिर वापस नहीं लौटा। घरवालों ने उसकी तलाश की, सुराग नहीं लगने पर संजीवनी नगर थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। मामले की तहकीकात के चलते पुलिस ने संदेह के आधार पर राजस्थान के रहने वाले एक संदेही को पकड़ा था। पूछताछ में उसने हत्या का खुलासा किया। 

पुलिस ने बताया, संभवतः 16 फरवरी को ही अनुपम का क़त्ल कर दिया गया था। उसके शव को आरा मशीन में काटकर बोरी में भरकर फेंक दिया गया था। वक़्त अधिक बीतने की वजह से टुकड़ों में बंटा शव बुरी तरह सड़-गल चुका था। पुलिस लकड़ी के टाल के कर्मचारियों सहित अनुपम और टोनी के परिजन तथा परिचितों से पूछताछ कर रही है। पुलिस की गिरफ्त में लिया गया संदेही मुख्य अपराधी टोनी के घर में किराए से रहता था। कहा जाता है कि गाडरवारा निवासी अनुपम शर्मा ने एक वर्ष पूर्व ही जसूजा सिटी फेज-1 में मकान खरीदा था। यहां वो अकेला रहता था। तहकीकात में पता चला कि मृतक अनुपम शादीशुदा था तथा उसका एक बेटा भी है। मृतक के पत्नी से मनमुटाव होने के कारण दोनों लगभग 4 सालों से अलग-अलग रह रहे थे। पुलिस तहकीकात में यह बात भी सामने आई है कि कुछ सालों से जबलपुर में रह रहे अनुपम की मुख्य अपराधी टोनी वर्मा से जान-पहचान हो गई थी। अनुपम मुख्य अपराधी के शेयर ट्रेडिंग एकाउंट का पूरा कामकाज देखता था। तहकीकात में इस बात का पता चला कि युवक के क़त्ल के मुख्य आरोपी टोनी वर्मा ने वारदात को अंजाम देने के कुछ दिन बाद ही खुदखुशी कर ली थी। इस जानकारी के आधार पर पुलिस अब घटना के कारणों का पता लगाने में जुटी है।

छात्रावास की छात्रों पर अधीक्षक का क्रूरता पूर्ण व्यवहार, छात्राओं को जमकर पीटा

'इस्लाम का अपमान करता है इमाम..', भरी मस्जिद में नमाज़ के दौरान आरोपी ने घोंप दिए चाक़ू

यात्रियों के बीच से उठकर...युवक ने कनपटी पर रखी बंदूक और कर दी ताबड़तोड़ फायरिंग

रिलेटेड टॉपिक्स
Most Popular
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -