डॉक्टर नहीं था, तो सिक्योरिटी गार्ड ने कर दिया महिला का ऑपरेशन, मौत

लाहौर: पाकिस्तान के एक हॉस्पिटल में सुरक्षा गार्ड द्वारा महिला मरीज का ऑपरेशन करने का हैरान करने वाला मामला प्रकाश में आया है। इस महिला की बाद में रविवार को मौत हो गई है। स्थानीय पुलिस ने इस संबंध में जानकारी दी है। महिला का नाम शमीमा बेगम था और उनकी आयु 80 साल थी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, मोहम्मद वाहीद बट्ट नामक शख्स ने कुछ दिन पहले एक सरकारी अस्पताल में शमीमा बेगम की पीठ में हुए घाव के उपचार के लिए ऑपरेशन किया। इसी के दो सप्ताह बाद शमीमा बेगम की मौत हो गई। वहीं, लाहौर के मेयो अस्पताल के एक प्रशासनिक अधिकारी ने नाम न प्रकाशित करने की शर्त पर बताया कि यह एक बड़ा अस्पताल है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक डॉक्टर और कोई यहां हर वक़्त क्या कर रहा है, हम उस पर नजर नहीं रख सकते।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि ये अभी स्पष्ट नहीं है कि उस गार्ड ने ऑपरेशन थियेटर में किस प्रकार की सर्जरी की थी। हैरान करने वाली बात ये भी है कि ऑपरेशन के वक़्त एक योग्यता प्राप्त तकनीशियन भी मौजूद था। ये बात सामने आई है कि बेगम के परिवार ने ऑपरेशन और बाद में दो बार घर जाकर मरहम-पट्टी के लिए बट्ट को पैसे भी दिए थे। हालांकि जब मरीज से ज्यादा खून बहने लगा और दर्द बहुत बढ़ गया तो परिवार उन्हें लेकर दोबार अस्पताल पहुंचा। वहां पहुंचकर उन्हें पता चला कि आखिर उनके साथ क्या धोखाधड़ी हुई है। उसके शरीर को पोस्टमार्ट के लिए रखा गया है, ताकि यह पता लगाया जा सके कि उसकी मृत्यु नाकाम सर्जरी से उससे हुई जटिलताओं का नतीजा थी या नहीं।

पाकिस्तान: सिंधु नदी में गिरी यात्री वैन, एक ही परिवार के 16 लोगों की मौत

WTC फाइनल के बाद टीम इंडिया को मिलेगी 20 दिन की छुट्टी, फिर इंग्लैंड से होगी भिड़ंत

अफ़ग़ानिस्तान में तालिबान का आतंक जारी, महज दो दिनों में 119 लोगों की मौत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -