जगदलपुर कलेक्टर ने ली जिम्मेदारी कहा पूरी तरह सुरक्षित हैं स्ट्रांग रूम में रखी ईवीएम

जगदलपुर कलेक्टर ने ली जिम्मेदारी कहा पूरी तरह सुरक्षित हैं स्ट्रांग रूम में रखी ईवीएम

जगदलपुर: बस्तर जिले के संभागीय मुख्यालय जगदलपुर के धरमपुरा में स्थित महिला पॉलिटेक्निक कॉलेज में बनाये गए स्ट्रांग रूम में रखे हुए सभी ईवीएम पूरी तरह सुरक्षित हैं। जानकारी के अनुसार बता दें कि कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ अय्याज तम्बोली ने बताया कि महिला पॉलीटेक्निक परिसर धरमपुरा में प्रथम तल पर स्थापित स्ट्रांग रूम की सुरक्षा के तीन लेयर हैं। वहीं बता दें कि परिसर के मैदान में कुछ दूरी पर स्थित रिलायंस टावर के मेंटेनेंस हेतु रिलायंस के दो कर्मचारी मेंटेनेंस के कार्य को कर रहे थे।

राजस्थान चुनाव: इन 60 सीटों पर कांग्रेस-बीजेपी कोई भी जीते, विधायक एक ही समुदाय का होगा

इसके साथ ही बता दें कि महिला पॉलिटेक्निक परिसर मैदान में उक्त दोनों कर्मचारियों की मौजूदगी के संबंध मे जानकारी प्राप्त होते ही कलेक्टर डॉ अय्याज तंबोली के दिशा निर्देश पर तत्काल कार्यवाही करते हुए पुलिस द्वारा दोनों कर्मचारियों से पूछताछ की जा रही है। साथ ही उक्त दोनों कर्मचारी निजी कंपनी में कार्यरत हैं जिन्हें परिसर में प्रवेश हेतु अधिकृत नहीं किया गया है। यहां बता दें कि ईवीएम और वीवीपेट को लैपटॉप से दूर बैठकर टेम्पर करना संभव नही है। अतः ईवीएम पूर्णतः सुरक्षित है। इसके साथ ही स्ट्रांग रूम भवन परिसर मे किसी भी अनाधिकृत व्यक्ति द्वारा प्रवेश नहीं किया गया है।

राजस्थान चुनाव में वोटिंग से पहले पकड़ी गई 1080 पेटी शराब

गौरतलब है कि बिना अनुमति इन दोनों व्यक्तियों को परिसर में प्रवेश देकर नियमों का उल्लंघन करने व अपने दायित्व के निर्वहन में लापरवाही बरतने के कारण प्रथम लेयर पर सुरक्षा का कार्य कर रहे दो सुरक्षा कर्मियो आरक्षक इंद्र कुमार पैंकरा और प्रधानारक्षक केशव साहू को निलंबित किया गया है। बता दें कि स्ट्रांग रूम की सुरक्षा केंद्रीय सुरक्षा बल द्वारा की जा रही है। इसके अलावा स्ट्रांग रूम पूरी तरह सुरक्षित है। 

खबरें और भी

राजस्थान चुनाव: लोगों में भारी उत्साह, 1 बजे तक दर्ज हुआ 41.53 फीसदी मतदान

राजस्थान चुनाव: साढ़े तीन घंटे तक इंतज़ार कर बीजेपी मंत्री ने किया मतदान, ईवीएम में खराबी रही वजह

राजस्थान चुनाव में हो सकता पलटवार इतिहास बदलेगी भाजपा या कांग्रेस बनाए रखेगी दस्तूर