लड़कियों को उच्च शिक्षा देने से रोके जा सकते हैं बाल विवाह- रिपोर्ट

Oct 11 2018 08:04 PM
लड़कियों को उच्च शिक्षा देने से रोके जा सकते हैं बाल विवाह- रिपोर्ट

नई दिल्ली: सेव द चिल्ड्रेन संगठन ने कहा है कि लड़कियों को उच्च शिक्षा प्रदान करना 2030 तक दुनिया भर में कम से कम 50 मिलियन बाल विवाहों को रोकने में मदद कर सकता है. पिछले दशक में अनुमानित 25 मिलियन बाल विवाहों को रोका गया था, लेकिन 2030 तक इस सामाजिक अभ्यास को खत्म करने के संयुक्त राष्ट्र के लक्ष्य को पूरा करने के लिए वर्तमान में कोई विकासशील देश प्रयास नहीं कर रहा है, यह दुनिया भर के बच्चों के लिए काम कर रहे संगठन द्वारा किए गए एक विश्लेषण में पाया गया है.

हरियाणा : प्रधानमंत्री मोदी ने दी रेल कोच फैक्ट्री की सौगात

संगठन ने एक बयान में कहा कि वर्तमान प्रवृत्ति के मुताबिक, यह अनुमान लगाया गया है कि 134 मिलियन लड़कियां 2018 और 2030 के बीच शादी कर लेंगी. लगभग 10 मिलियन लड़कियां अकेले 2030 में शादी कर लेंगी और इनमें से दो मिलियन से अधिक विवाह में 15 साल से कम उम्र के लड़कियों को शामिल किया जाएगा.  

केंद्र सरकार किसानों के हित में काम कर रही है- पीएम मोदी

विश्लेषण से पता चला कि कम आय वाले देशों में स्कूल छुड़ाना और बाल विवाह कराना बहुतायत में पाया जाता है. साथ ही, स्कूल के बाहर की लड़कियां बाल विवाह के बढ़ते जोखिम के संपर्क में आती हैं, जिनमें से कई असुरक्षित वातावरण में रहने को बाध्य होती है. माता-पिता अक्सर महसूस करते हैं कि उनकी बेटियों की शादी करने से उन्हें सामाजिक कलंक और नुकसान से बचाया जा सके. 

खबरें और भी:-

नवरात्रि 2018 : पूरे नौ दिन तक बिना कुछ खाए-पिए उपवास रखते हैं पीएम मोदी

हमारी संस्कृति से शर्मिंदा थे पहले की सत्ता में बैठे लोग- पीएम मोदी

सुशिल मोदी लांच करेंगे, लालू के जीवन पर आधारित किताब 'लालू लीला'