बदलते मौसम के साथ बढ़ने लगी बीमारी

वाराणसी। सर्दी के मौसम में तापमान के उतार-चढ़ाव से लोगों की परेशानियां बढ़ गई हैं। लगातार मौसम बदलने से दिन में धूप तो वही शाम को ठंड होने से लोग भी असमंजस में है। वही इस बदलते मौसम की वजह से कई बीमारियां बढ़ने लगी है हालांकि गुरुवार को शहर के तापमान में मामूली गिरावट दर्ज की गई।

मौसम विभाग के अनुसार अधिकतम तापमान 27.3 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 10.5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। बुधवार को अधिकतम तापमान 28.2 डिग्री था। मौसम वैज्ञानिकों ने बताया कि दिनभर आसमान साफ रहा, शाम होते-होते हल्के बादल छाने लगे। शाम को हल्की हवाओें ने ठंडक बढ़ा दी। मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि आसमान साफ रहने पर सूरज की किरणें सीधी धरती पर पड़ने से ठंड महसूस नहीं हो रही है। 

इसके अलावा पयार्वरणविद इसके पीछे ग्लोबल वार्मिंग की वजह से पॉल्यूशन का लेवल बढ़ने को कारण मान रहे हैं। उनका मानना है कि हवा में कार्बन की संख्या में इजाफा हो गया है। इस कारण सांस से जुड़ी बीमारियां हो रही हैं। पर्यावरण में हो रहे बदलाव का असर बीमारी के रूप में सामने आ रहा है। खासकर बच्चे और बुजुर्ग मौसम के इस बदलाव को सहन नहीं कर पाते और वे बीमार हो जाते हैं। बच्चों में निमोनिया पाया जा रहा है, बजुर्गों में एलर्जी हो रही है, युवाओं में बुखार और सर्दी का असर देखा जा रहा है।

जम्मू एवं कश्मीर में शीत लहर का कहर जारी

कड़ाके की ठंड के कारण जनजीवन अस्त-व्यस्त

कश्मीर घाटी में तापमान शून्य से कई डिग्री नीचे

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -